Vitamin D3 in hindi complete guide

Vitamin D in hindi complete guide:विटामिन डी सम्पूर्ण जानकारी

1.विटामिन डी क्या है ?-What is Vitamin D?

Table of Contents HIDE

जैसा की हम जानते है ठण्ड के मौसम में दिन छोटे हो जाते है और सूरज की रौशनी से हमे एक महत्वपूर्ण तत्व विटामिन D(Vitamin D) मिलता है पर सूरज की धुप सर्दियों के मौसम में कम मिलती है जिससे विटामिन डी की शरीर में कमी होने की सम्भावना बढ़ जाती है ।इसलिए फिर हमे विटामिन D की गोलियां लेना पड़ती है ।लेकिन विटामिन D आपको खाद्य उत्पादों जैसे गाय का दूध,दही,संतरा ,दलिया,मशरूम,अंडे की जर्दी,फैटी फिश से भी मिल सकता है |

विटामिन डी हमें कई रोगो से बचाता  है ब्लड फ्लो के अंदर कैल्शियम और फॉस्फेट के एक सही पैमाने पर अवशोषण के लिए और हमारे शरीर में मेटाबोलिज्म के लिए विटामिन डी बहुत ही महत्वपूर्ण होता है । विटामिन D डिप्रेशन,शरीर में अगर मांसपेशियों के अंदर कमज़ोरी,हड्डियों में होने वाली तकलीफ़ और शरीर में होने वाली थकान और डिप्रेशन से आपको बचाने के लिए बहुत ही मददगार साबित होता है ।विटामिन डी को आप किसी भी मेडिकल शॉप से खरीद सकते है उसके लिए डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन की आवश्यकता नई होती है |विटामिन डी हड्डियों के लिए तथा शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए बहुत ही जरूरी होता है ।विटामिन डी की एक सही मात्रा हड्डियों के लिए बहुत ही जरूरी है ।

विटामिन डी दो किस्म का होता है पहला विटामिन d3 जो की मछली ,सूरज की धुप में होता है जब भी सूरज की किरणे हमारी त्वचा पर पड़ती हे तो विटामिन d3 बनता है ।दूसरा होता है विटामिन d2 जो की पेड़ पोधो से मिलने वाले खाद प्रदार्थ में मिलता है जैसे मशरूम ,संतरा आदि में पाया जाता है |असल में विटामिन डी एक हार्मोन होता है जो की हमारे शरीर को कैल्शियम को पचाने में हेल्प करता है । 

2.विटामिन डी की कमी के लक्षण-Symptoms of vitamin d deficiency

  • अगर आपको बहुत ज्यादा थकान महसूस होती है और साथ ही एनर्जी की बहुत कमी महसूस होती है ।तो आपको विटामिन डी को चेक करने वाला टेस्ट करवा लेना चाहिए ।
  • विटामिन डी की मात्रा हमारे शरीर में कम होने से हमारी मांसपेशियां कमजोर हो जाती है और हम सारा दिन थकान का अनुभव करते है ।जिससे हमे जोड़ो में दर्द,मांसपेसियों में खिचाव ,शरीर में सामान्य कमजोरी ,सिडिया चढ़ने में तकलीफ ,उड़ने बैठने में तकलीफ आदि ।
  • विटामिन डी की कमी से हड्डिया कमजोर हो जाती है ,हड्डियों की मजबूती और उनके रख रखाव के लिए विटामिन डी की जरूरत होती है |
  • अगर आपके बाल बहुत अधिक झड़ रहे है तो आपको विटामिन डी की कमी हो सकती है ।
  • अगर आपको कही पर चोट लग गई है और आपके घाव ठीक होने में बहुत अधिक टाइम लग रहा है तो आपको विटामिन डी की कमी हो सकती है ।
  • डॉक्टरों के अनुसार अगर आप  लंबे समय से पाचन संबंधी किसी समस्याएं का सामाना कर रहे हे तो यह विटामिन डी की कमी से जुड़ी हो सकती है ।
  • विटामिन डी की कमी से आपका इम्युनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है ।

 विटामिन डी हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है पर अगर आपकी सेहत बहुत अच्छी है तो आपको विटामिन डी के किसी भी सप्लीमेंट की कोई आवश्यकता नहीं है ।

3.विटामिन डी के फ़ायदे-Benefits of vitamin d

  • विटामिन डी से हमारा इम्युनिटी सिस्टम स्ट्रांग हो जाता है और हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है ।
  • विटामिन डी से हमारी हड़िया मजबूत होती है ।
  • अगर हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी नहीं हे तो हमे कमज़ोरी का अहसास नहीं होता है ।
  • विटामिन डी हाई बीपी,मांसपेसियों,हृदय रोग,नसों के लिए बहुत ही आवश्यक है ।जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही जरूरी है ।
  •  विटामिन डी हमारी बॉडी में कैल्शियम की मात्रा बनाये रखने में हेल्प करता है ।
  • विटामिन डी हमारी शरीर की कोशिकाओं में प्रोटीन की मात्रा बनाये रखने में हेल्प करता है।

4. कुदरती तरीके से विटामिन डी के स्त्रोत-Natural sources of vitamin d

यह विटामिन डी के कुछ स्त्रोत है इसके अलावा भी विटामिन डी बहुत सी चीज़ो में पाया जाता है 

  • मछली के तेल से बने प्रदार्थ
  • दूध
  • अंडे
  • हरी भरी ताजी सब्जिया 
  • फ्रेश फ्रूट(फल)
  • धूप
  • चिकन 
  • सोयाबीन 
  • मक्खन 
  • गेहू 
  • मशरूम 
  • संतरे का रस
  • पनीर
  • मूली 
  • पत्तागोभी
  • टमाटर 
  • निम्बू

5.विटामिन डी का आयर्वेद में उपचार -Treatment of Vitamin D in Ayurveda

आयुर्वेद में विटामिन डी का इलाज करने के लिए दवा ,तेल से मालिश और आयर्वेदिक लेप का उपयोग किया जाता है ।आयुर्वेदिक इलाज का परिणाम आने में ३ महीने तक समय लग जाता है ।

  • एक चमच्च मेथीदाने को रात में भीगकर रख दे और उसको सुबह-सुबह खा ले यह एक दर्दनिवारक होता है मेथीदाना खाने से हड्डिया मजबूत हो जाती है ।
  • १/२ चमच्च हल्दी को एक गिलास गुनगुने दूध में डालकर पिए इससे भी विटामिन डी की कमी पूरी होती है ।
  • विटामिन डी की कमी को पूरा करने के लिए ताजे फल ,सब्जिया ,मछली ,अंडे भी खा सकते है ।
  • १ चमच्च बादाम का तेल एक गिलास गुनगुने दूध में डालकर पिए इससे आपके शरीर में विटामिन डी की कमी पूरी होगी ।
  • रोजाना तेल मालिश करने से हड्डिया मजबूत होती है ।

6.विटामिन डी के साइड इफेक्ट्स क्या होते है-What are the side effects of vitamin d 

  • उल्टी आना 
  • मत्तली जैसा लगना
  • भूख ना लगना  
  • दस्त लग जाना 
  • कमजोरी की वजह से चक्कर आना
  • सिरदर्द रहना 
  • स्किन पर रैशेस आ जाना 
  • सीने में दर्द होना 

7.विटामिन डी खाने की सलाह कब दी जाती है -When is it advisable to eat vitamin D

जैसा की हम जानते है विटामिन डी हमारे शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक होता है जब हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है और ऑस्टियोपोरोसिस जो की एक हड्डी का रोग होता है जिसमे हड्डिया कमजोर हो जाती है तब हमें विटामिन डी खाने की सलाह दी जाती है विटामिन डी हमारी हड्डियों के लिए और हमारी हड्डियों में कैल्शियम और फॉस्फेट की मात्रा को बनाए रखने के लिए जरूरी होता है ।

इसलिए जब हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है तो विटामिन डी की गोलियां खाने की सलाह दी जाती है 

8.विटामिन डी की पूर्ति हैल्थी डाइट के द्व्रारा -supplemented by healthy diet

विटामिन डी हमारे शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योकि विटामिन डी से हमारी हड्डिया मजबूत होती है ,विटामिन डी हम मांसाहारी  खाद प्रदार्थो जैसे मछली,मांस,अंडे से प्राप्त कर सकते है ।साथ ही ये हरी सब्जियों जैसे टमाटर ,पालक ,शलजम ,चुकंदर,नीबू ,दूध से बने हुए खाद प्रदार्थ दूध ,दही,पनीर,चीज़ और फलो से प्राप्त किया जा सकता है साथ ही ड्राई फ्रूट्स को विटामिन डी का एक अच्छा  स्त्रोत माना जाता है बादाम ,किशमिस,अखरोठ आदि में बहुत अधिक मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है ।

9.विटामिन डी खुराक के निर्देश क्या है ?-What is the vitamin D dosage instructions?

1.विटामिन डी३ की दवा की डोज़ लेना भूल जाने पर आप क्या करें?

अगर आप मेडिसीन का कोई डोज लेना भूल गए है तो उसे जल्दी से जल्दी ले अगर दूसरी डोज का समय हो गया है तो ऐसे न ले ।

2.विटामिन डी३ की डोज़ अधिक मात्रा में लेली है तो उससे क्या होगा ?

अगर अपने विटामिन डी३ का डोज़ अधिक मात्रा में ले लिया है तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए ।

10.विटामिन डी किस किस कंट्री में स्वीकृत है -In which country is vitamin d approved?

  • इंडिया 
  • यूनाइटेड स्टेट 
  • जापान 

11. विटामिन डी के दैनिक डोसेज-Daily dosage

हम विटामिन डी के इन्टेक का माप micrograms (mcg) [माइक्रोग्राम (एमसीजी)] या अंतर्राष्ट्रीय इकाइयों (आईयू(IU)) में कर सकते है  विटामिन डी का एक माइक्रोग्राम 40 आईयू के बराबर है।

विटामिन डी के अनुशंसित दैनिक सेवन इस प्रकार हैं:

  • शिशु 0-12 महीने: 400 आईयू (10 एमसीजी)।
  • बच्चे 1-18 वर्ष: 600 आईयू (15 एमसीजी)।
  • 70 वर्ष तक के वयस्क: 600 आईयू (15 एमसीजी)।
  • 70 वर्ष से अधिक आयु के वयस्क: 800 आईयू (20 एमसीजी)।
  • गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाएं: 600 आईयू (15 एमसीजी)।

हमें ५-१० मिनट के लिए हर सप्ताह सूरज की धूप लेना चाहिए इससे हमे पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी जो हमारे शरीर के लिए जरुरी होता है वह मिल जाता है |

12. विटामिन डी की मुख्य विशेताए क्या है ? -What are the main features of Vitamin D?

  • विटामिन डी का प्रभाव कितने समय तक रहता है ?
    विटामिन डी का परिणाम प्राप्त करने में थोड़ा अधिक समय लगता है इसका प्रभाव बनाए रखने के लिए आपको विटामिन डी युक्त भोजन और सूरज की किरणों से इसे प्राप्त करना चाहिए ।
  • विटामिन डी का प्रभाव कब शुरू होता है?
    इस दवा का प्रभाव एक महीने में दिखने लगता है और अगर आप आयुर्वेदिक इलाज कर रहे है तो ३ महीने का समय लगता है ।
  • क्या विटामिन डी की टेबलेट को गर्भावस्था के दौरान लिया जा सकता है ?
    विटामिन डी की टेबलेट गर्भावस्था के दौरान लेने से पूर्व चिकित्सक से परामर्श ले लेना चाहिए ।
  • क्या विटामिन डी की दवा के साथ शराब का सेवन किया जा सकता है ?
    शराब के साथ विटामिन डी का सेवन किया जा सकता है पर इसके पहले आप डॉक्टर से परामर्श अवश्य लेले ।

13.विटामिन डी3 / डी युक्त दवाईया -Vitamin d3 containing medicines

यह पर कुछ दवाइयाँ की लिस्ट दी गई है जिसमे विटामिन डी3 उपलब्ध है 

  • Calciway D3 sachet for Re-Establishes Vitamin-D3 (Cholecalciferol 60000 I.U) Levels Pack of 10 (Sugar Free)(कालकिवय  D3 सचेत फॉर रे -एस्टब्लिशेस विटामिन -ड़३ (चोलेकाल्सीफेरोल ६०००० I.U) लेवल्स पैक ऑफ़ 10 (Sugar Free))
  • Dr. Morepen Vitamin D3 60000 IU 16 Softgels Capsule(Dr. मोरेपन  विटामिन D3 60000 IU 16 सोफ्टगैस कैप्सूल )
  • Vitomin D3 Granules(Vitomin D3 ग्रनुलेस)
  • Calshine D(कॅलशिने D)
  • AIWO Vitamin D3 60000 IU | One-A-Week | Ultra Strength Vitamin D Supplement | For Strong Bones, Muscles, Immune System | 4 Softgels Per Strip, Pack(AIWO Vitamin D3 60000 IU | ओने -A -वीक  | अल्ट्रा स्ट्रेंथ विटामिन D सप्लीमेंट | फॉर स्ट्रांग बोनस , मसल्स , इम्मून सिस्टम | 4 सोफ्टगैस पैर स्ट्रिप , पैक )
  • Bakson Vitamin D Plus Capsules (50caps)(बक्सों  विटामिन D प्लस कैप्सूल्स (50caps))
  • California Gold Nutrition, Vitamin D3, 125 mcg (5,000 IU), 90 Fish Gelatin Softgels(कैलिफ़ोर्निया  गोल्ड नुट्रिशन , विटामिन D3, 125 mcg (5,000 IU), 90 फिश जेलाटीन सोफ्टगैस)
  • Apollo Life Vitamin D3 2000 I.U Softgels 30’s(अपोलो  लाइफ विटामिन D3 2000 I.U सोफ्टगैस 30’s)
  • Allen Vitamin D3 100 Capsules(एलन विटामिन D3 100 कैप्सूल्स )

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 435

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top