what is cold

Cold in hindi:सर्दी-जुकाम क्या होता है?लक्षण,बचाव,दवा

सर्दी-जुकाम क्या होता है। (What is Cold)

ठंड या सर्दी जुकाम(Cold ) वायरस के कारण होता है। इस बीमारी के लिए 200 से ज्यादा वायरस जिम्मेदार होते है। इन सबमे सबसे आम वायरस राईनोवायरस है। इस वायरस को 50% सर्दी जुकाम के लिए जिम्मेदार माना जाता है। इस वायरस के अलावा कोरोनावायरस, रेस्पिटरी, शिनशिसल वायरस, इन्फ्लूएंजा जैसे वायरस से सर्दी और जुकाम फैलता है।

सर्दी-जुकाम शुरू कैसे होता है? (How does a cold start?)

जैसेकि अपने पहले पढ़ा कि यह बीमारी वायरस से फैलती है तो इस बात का ज्यादा ध्यान रखना होता है कि आप इस बीमारी से ग्रसित व्यक्ति के संपर्क में ना रहे। जिन लोगो को पहले से यह बीमारी होती है उनसे यह बीमारी जल्द फैलने की आशंका रहती है। या फिर कुछ ऐसी चीजें जो ठंड और जुकाम से पीड़ित छू लेते है जैसेकि कंप्यूटर, कुंडी, कीबोर्ड, दरवाजा इत्यादि और फिर कोई स्वस्थ व्यक्ति इन वस्तुओं को छू ले तो उसे भी संक्रमण फेलने का खतरा रहता है।

जब कई बार संक्रमित व्यक्ति छींकता है या खाँसता है तो हवा में उसके सक्रंमण घुल जाते है और वो किसी व्यक्ति के शरीर मे श्वास के जरिये पहुँच जाते है। जब कोई वायरस हमारी नाक या गले के जरिये शरीर मे पहुंचता है तो हमे जुकाम और ठंड लगने की आशंका रहती है। जुकाम लगने के बाद हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता, रोगों के खिलाफ हमारी रक्षा करती है। संक्रमण होने के कारण नाक और गले मे सूजन आ जाती है और इसी वजह से बलगम भी बनता है। यह बात शायद हम में से कई लोगो ने यह ध्यान नही दिया होगा कि जब हम जुकाम या सर्दी से पीड़ित होते है तो हमारा शरीर रोग से लड़ने में काफी ऊर्जा खर्च कर देता है और इसी वजह से कई बार हमें थकान महसूस होने लगती है।

सर्दी-जुकाम की अवस्थाएं (Stages of Cold)

सर्दी और जुकाम अलग-अलग वायरस की वजह से ही सकती है और अलग-अलग व्यक्तियोँ को अलग-अलग वायरस की वजह से जुकाम हो सकता है। जुकाम सामान्यतः कम से कम 2 से 3 दिन में अपने लक्षण दिखाना शुरू कर देता है। लेकिन इसको ठीक होने में 7-8 दिन या उससे ज्यादा समय भी लग सकता है।

सर्दी-जुकाम के लक्षण (Symptoms of Cold)

सर्दी और जुकाम के लक्षण आसानी से समझ मे नही आते है और इनके लक्षण पता चलने में कुछ दिन लग जाते है। साधारण तौर पर जुकाम और फ्लू के बीच अंतर को समझ पाना थोड़ा सा मुश्किल होता है। लेकिन अगर आप जुकाम के लक्षण समझ जाएंगे तो आपको इसका इलाज करने में आसानी रहेगी। कई बार जुकाम दवा की खुराक लेने से भी सही हो जाता है और कई बार जब जुकाम गंभीर रूप धारण कर लेता है तो डॉक्टर से सलाह लेनी ही उचित रहता है। आइए जुकाम के कुछ लक्षणों के बारे मे जानतें है।

  • नाक का बन्द होना– अगर आपकी नाक बंद है तो यह जुकाम होने का संकेत हो सकता है।
  • साइनस पर दबाव– अगर आपके साइनस पर दवाब पड़ रहा है तो ऐसे में जुकाम होने की संभावना रहती है।
  • नाक का बहना– नाक का लगातार बहना भी जुकाम होने का संकेत होता है ।
  • लगातार छींक– अगर आपको बार-बार छींक आ रही है तो हो सकता है कि आप जुकाम के शिकंजे में आ चुके हो।
  • नाक बंद होना– अगर आप कुछ भी सूंघ नही पा रहे है और आपको नाक बंद होने की शिकायत है तो यह भी जुकाम होने का लक्षण है।
  • थकान महसूस होना– अगर आपको बिना वजह थकान महसूस हो रही हो तो हो सकता है कि आप सर्दी या जुकाम की चपेट में हो।
  • शरीर मे दर्द होना– अगर आपको शरीर मे दर्द की शिकायत है तो यह भी सर्दी जुकाम होने का लक्षण है।

सर्दी-जुकाम से बचाव (Precautions)

हर कोई अपने आप को सर्दी-जुकाम जैसे बीमारियों से बचा कर रखना चाहता है लेकिन फिर भी जाने-अनजाने हम इस बीमारी की चपेट में आ जाते है। फिर भी कुछ ऐसे उपाय है जिन्हें अपनाकर हम सर्दी-जुकाम से अपना बचाव कर सकते है।

  • हाथों को धोइये– सबसे प्राथमिक और महत्वपूर्ण उपाय है कि आप अपने हाथों को साफ रखिये। जब भी आप किसी ऐसी जगह से आये जहाँ आपके अलावा और भी लोग थे या किसी भी सार्वजनिक स्थान से आये तो अपने हाथों को धोइए। क्योंकि कोई भी बीमारी हमारे हाथों में मौजूद संक्रमण से ही हमारे शरीर मे प्रवेश करती है।
  • धूम्रपान से बचे– धूम्रपान करने से इसका धुंआ हमारे शरीर मे मौजूद वायुमार्गों को हताहत कर सकता है और हमारे शरीर को सर्दी और जुकाम जैसी बीमारियों के लिए अति-संवेदनशील बनाता है। इसके अलावा अगर आस-पास में कोई धूम्रपान कर रहा हो तो भी उस धुँए से दूर रहे।
  • सफाई रखे– अपने घर और कार्यक्षेत्र पर साफ-सफाई बना कर रखे। गंदगी होना भी इस बीमारी को बढ़ावा देता है।
  • पेपर टॉवल या टिश्यू पेपर का प्रयोग– हाथ धोने के बाद या हाथ गीले होने के बाद उन्हें पोछने के लिए पेपर टॉवल या टिश्यू पेपर का ही इस्तेमाल करे क्योंकि जब आप क्लॉथ टॉवल से हाथ साफ करेंगे तो रोगाणु कपडे पर घण्टे तक रह सकते है और फिर अगर परिवार के किसी और सदस्य ने उससे अपने हाथ साफ कर तो उसके शरीर में रोगाणु जाने की प्रबल संभावना रहती है।

सर्दी-जुकाम के लिए दवा (Medicines)

अगर आप को सदी-जुकाम हो गया है और आपको दवाई के द्वारा इसका उपचार करना है तो ऐसी दवाइयां उपलब्ध है जो सर्दी-जुकाम के इलाज में कारगर है।

  • पेरासिटामोल (Paracetamol)– अगर किसी व्यक्ति को सर्दी, जुकाम या बुखार की शिकायत है तो पेरस्टामोल खाने से राहत मिल सकती है।
  • स्युडोएफेड्रिन (Pseudoephedrine)– इस दवा का उपयोग बन्द नाक को खोलने और उसे साफ रखने के लिए किया जाता है।
  • ओक्सीमेटाज़ोलिन(Oxymetazoline) इस दवाई का प्रयोग सर्दी-जुकाम में किया जाता है।

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 353

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top