Pear Fruit in Hindi

Pear Fruit in Hindi:नाशपाती क्या है उसके फायदे और नुकसान

स्वास्थ्य के लिए सदा ज़रूरी है बढ़िया आहार। पर आहार में क्या-क्या होता है, वह भी जाना आवश्यक है। डॉक्टर तो कहते हैं, की एक संतुलित आहार में कार्बोह्यदरटेस, प्रोटेंस, वायटमिंज़ और मिनरल्ज़ का होना आवश्यक है।-Pear Fruit in Hindi

Table of Contents HIDE

 कार्बोह्यदरटेस तो मिलते हैं हमारे अनाज में, जो कि रोटी या चावल में होते हैं। प्रोटेंस हमें मिलते हैं दाल, सोया बिन और मास-मछली में, और सब्ज़ियाँ और फल हमें चौथा भाग- वायटमिंज़ और मिनरल्ज़ देते हैं। 

हमें संतुलित खाने के अलावा फल खाना बहुत ज़रूरी है। इन फलों को खाने की सलाह हमें हमारे चिकित्सक देते रहते हैं। इसमें हमें वही फल खाने चाहिए जो कि मौसम के हिसाब से हमें बाज़ार में मिलते हैं। इन फलों में से एक है नाशपती।

वैसे आप सब नाशपती के बारे में तो जानते ही नहीं, बल्कि उसे खाते भी होंगे। पर नाशपती के फ़ायदों के अलावा कुछ दुष्प्रभाव  क्या होते हैं, यह कम  ही लोगों को पता होंगे। तो इस लेख में, हम इन्हीं सब चीज़ों की बातें करेंगे।  तो चलिए शुरू करते हैं कहानी नाशपती की।

नाशपती क्या होता है?-What is a pear?-Pear Fruit in Hindi

  • नाशपती को अंग्रेज़ी में पीयर (Pear) कहते हैं। इसका वैज्ञानिक नाम पयरस (पयरस) होता है। दूसरी भाषाओं में इसे हिंदी में तो आप जानते हैं, तमिल में इसे पेरिक्के, पंजाबी में नसपाती, बांगला में नाशपाती और मलयालम में नशपत्ति कहते हैं।
  • वैसे ज़्यादातर ये स्वाद में मीठा होता है, पर कुछ फल खट्टे भी हो हो सकते हैं। दिखने में यह हरे सेब की तरह दिखता है।
  • इससे पहले की हम नाशपती के दूरे गुण जाने, पहले हम नाशपती के प्रकार समझ लेते हैं। वैसे ये कई प्रकार के होते हैं, पर हम यहाँ उसके मुख्य प्रकारों की बात करते हैं।

नाशपती के फ़ायदे:Pear Fruit Benefits in Hindi-Pear Fruit in Hindi

1.वज़न कम करने के लिए मददगार :

आजकल बढ़ता वज़न क़रीब हर व्यक्ति की समस्या बनता जा रहा है। नाशपती एक ऐसा फल है जो आपके शरीर में ज़रूरत से अधिक वज़न लाने में सहायता कर सकता है। एक शोध के अनुसार अधिक भार वाली औरतों को १२ सप्ताह के लिए प्रतिदिन नाशपती का फल खिलाया गया, और जो पाया गया वो मज़ेदार था। उन १२ महिलाओं के वज़न को कम पाया गया। इसका अर्थ है की आप भी रोज़ाना नाशपती खा सकते हैं। इसे आप अपनी डाइयट में ख़ुशी से शामिल कर सकते हैं और आपके जीवन में बढ़ते वज़न के समस्या जिसे ओबीसिटी भी कहते हैं, उससे राहत पा सकते हैं।वजन घटाने के घरेलु नुश्खे

2.कैन्सर की बीमारी से राहत पाएँ :

कैन्सर जैसी ख़तरनाक बीमारी जिसका सही इलाज नहीं मिल पाया है, उसमें नाशपती जैसा फल लाभदायक हो सकता है। नाशपती में उरोसोलिक ऐसिड (Urosolic acid) जैसा तत्व उपस्थित होता है, जो कि मूत्राशय (Bladder), फेफड़ों (Lungs) और भोजन-नालिका (Oesophagal/ food pipe), इन सबके कैन्सर से बचाव का काम करता हाई। नाशपती को वैसे किसी भी इंसान को नियमित रूप से खाने से इसका जोखिम तो कम होता ही है, पर महिलाओं में यह एक विशिष्ट रजोनिवृत्ति की अवधि के दौरान, कैन्सर का जोखिम बिलकुल कम करता है।

3.हृदय के रोगों से बचाव के लिए:

आज कल की तेज़-तरार जीवन शैली और ज़िंदगी में पहले जो की बहुत हाई ख़तरनाक माना जाता था, वह आम हो गयी है। हम बात कर रहे हैं हृदय या दिल के मीयरियों की। अगर हम अपने हृदय को अच्छा रखना चाहते हैं, तो बहुत ज़रूरी हाई की हम नाशपती को अपने रोज़ाना आहार में शामिल कर लें। हम यह जानते हैं कि दिल का दौरा और उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) कितना ख़तरनाक है हमारे शरीर के लिए। नाशपती इन दोनो को काम करने में हमारी सहायता करता है। इसे अपनी डाइयट में ज़रूर शामिल करें।

4.डायबिटीज या मधुमेह का नियंत्रण:

आजकल के जीवन की एक और दुखद ख़बर यह है की मधुमेह जैसी ख़तरनाक बीमारी अब सर्द-ज़ख़ाम जैसा आम हो गया है। एक बार कोई डाइअबीटीज़ का मरीज़ बन जाए तो उसे जीवन भर कई चीज़ों का ध्यान रखना पड़ता है। भले ही वो कोई छोटे से घाव का भरना हो या उसके ब्लड शुगर के लेवल हो, उस मरीज़ को सतर्क रहना होता है। ऐसे में नाशपती का रोज़ाना या नियमित सेवन काफ़ी  असरदर होता है। इसमें ऐसे ऐंटाई-डायबिटीज गुण होते हैं, जो कि बीमारी के नियंत्रण में काम करते हैं। नाशपती में काफ़ी मात्रा में रफ़िज या फ़ाइबर भी होता है, जो डाइअबीटीज़ के रोगियों के लिए ब्लड ग्लूकोज़ के स्तर को संतुलिं रखने का काम करते हैं।

5.इम्यूनिटी या प्रतिरक्षा बढ़ना:

नाशपती में एक ऐंटाई-ऑक्सिडंट गुण होता है, जो कि शरीर की प्रतिरक्षक शक्ति बढ़ता है। इम्यूनिटी के लिए यह बहोत हाई अच्छा ऑप्शन बनता है।

6.ऑस्टीओपरोसिस  से बचाव:

कैल्सीयम की कमी से एक बीमारी बढ़ती उम्र के साथ आती है, जिससे हड्डियों की समस्याएँ आजाती हैं। इसे ऑस्टीओपरोसिस कहते हैं। इसमें कमर-दर्द या पीठ दर्द होना एक आम लक्षण होता है। नाशपती का सेवन से इस बीमारी से बचाव हो सकता है।

यह फल शरीर के पी एच स्तर का नियंत्रण भी करता है। एक केमिकल, बॉरान, शरीर में कैल्सीयम का स्तर बढ़ता है, जिससे ऑस्टीओपरोसिस से बचाव होता है।

7.ऊर्जा प्रदान करता है:

शरीर में सही मात्रा के लिए नाशपती अच्छा फल होता है। इसमें ऐसे पौष्टिक तत्व होते हैं, जो ऊर्जा की मात्रा बढ़ाते हैं। नाशपती के जूस को एक एनर्जी ड्रिंक की तरह यूज़ किया जाता है। जब भी आपको ऊर्जा की कमी, यानी की कमज़ोरी महसूस हो, तो जल्द ही नाशपती का जूस पे लें, आप ठीक महसूस करेंगे।

8.पाचन में फ़ायदे:

नाशपती में पेक्टिन नामक एक तत्व होता है। यह तत्व आजकल के तेल-मसले वाले खाने को पचाने में बहुत सहायता करता है। पर यहाँ एक चेतावनी का आपको ख़याल रखना पड़ेगा: अगर किसी को इरिटबल बाउल सिंड्रोम (Irritable Bowel Syndrome) है, तो आपको डॉक्टर से सलाह लेकर ही नाशपती शुरू करनी चाहिए। उस मामले में पेट दर्द जैसी दिक्कतें आसक्ति हैं।

9.गर्भावस्था के समय:

फोलेट नामक एक तत्व इस फल में होता है जो कि गर्भावस्था में माँ के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता है। यह होने वाले बच्चे के नयुरल ट्यूब डीफ़ेक्ट्स जैसे जन्मदोश दूर कर सकता है। गर्भावस्था में माँ को यह ज़रूर खिलाएँ।

नोट: एक बार शुरू करने से पहले, डॉक्टर से ज़रूर परामर्श लें।

10.उच्च रक्तचाप का नियंत्रण:

यदि आप नाशपती को अपने डाइयट में शामिल करेंगे, तो आप अपने हाई ब्लड-प्रेशर या उच्च रक्तचाप से अपने आप को स्वस्थ राख पाएँगे।

11.बुखार के समय:

 यदि आप बुखार से ग्रस्त हैं, और आप अपने शरीर में कमज़ोरी महसूस कर सकते हैं, तो ऐसी स्थिति में नाशपती का सेवन करें। इसमें ऐंटाई-पयरेटिक गुण बुखार के ख़िलाफ़ काफ़ी फ़ायदेमंद होते हैं।

12.सूजन के लिए: 

नाशपती में मौजूद कैटरिन, जियाजाएंथिन और प्रोटीन सूजन से बचाव करने में लाभ दायक होते हैं। इसे अपनी डाइयट में ज़रूर शामिल करें।

13.गले की समस्या से राहत:

नाशपती का जूस कई बार गरमियों में हुयी ख़राश से राहत पहुँचता है। यह गले की वोकल कॉर्ड को आराम देता है। तो गरमियों में नाशपती के जूस का सेवन अवश्य करें

14.लिवर के लिए लाभदायक:

नाशपती के सेवन से लिवर को भी फ़ायदा मिलता है। इसमें एक तत्व हॉट है जिसमें ‘हेपप्रोटेक्टिव’ गुण होते हैं, जो कि लिवर को काफ़ी लाभ पहुँचाता है। इसे अपने डाइयट में जल्द से जल्द शामिल करें।

15.दर्दनशक गुण:

नाशपती में एक ऐनल्जीज़िक या दर्दनशक तत्व होते हैं। इस  दर्दनशक गुण को ज़रूर इस्तेमाल करें।

नाशपाती के लाभ त्वचा के लिए :Benefits of pears for skin-Pear Fruit in Hindi

  • त्वचा को ख़राब होने और क्षति होने से बचता है नाशपती।
  • कील-मुँहासें और झुर्रियाँ कभी भी हो सकते हैं, पर नाशपती के सेवन से वो रुकते हैं
  • ऑली या तैलेय त्वचा का सही बचाव करता है नाशपती का सेवन।
  • लोग त्वचा को मॉस्चरायज़ करने के लिए कयी तरीक़े के क्रीम इस्तेमाल करते हैं, पर शोध बताता है की आप की त्वचा प्राकृतिक तरीक़े से लम्बे समय तक मॉस्चरायज़ रहेगी, अगर आप सिर्फ़ नाशपती को अपनी डाइयट में लोगे।
  • त्वचा को चमकदार रखने के लिए नाशपती का नियमित रूप से खाना, काफ़ी फ़ायदेमंद होता है।
  • रंग को निखारता है: नाशपती में अर्बुतिन नामक एक तत्व होता है जो त्वचा का रंग निखारता है।
  • नाशपती बालों को भी ताज़ा और जवान रखता है।

नाशपती के दुष्प्रभाव:Side effects of pear

नोट: निम्न चेतावनियाँ सिर्फ़ लोगों के अनुभवों पर आधारित है। इसका कोई ठोस प्रमाण नहीं है। 

  • नाशपती के छिलके को निकाल लेना चाहिए क्योंकि ये पेट की समस्या उत्पन्न करता है।
  • जब दस्त हो, तब नाशपती ना खाएँ, क्योंकि ये पीड़ा को और बढ़ा  सकता है।
  • नाशपती की तासीर ठंडी होती है, तो वो ज़ख़ाम के वक़्त इसका इस्तेमाल ना करें।
  • काटे हुए नाशपती को खुले में ना छोड़ें, क्यूँकि वह भूरे हो जाते हैं जो कि नुक़सानदायक होता है।
  • ऐलर्जी के मरीज़ इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

कुछ और फल और सब्जियों की जानकारियॉ जो आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए बहुत ही फायदेमंद है |

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 349

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top