Ostocalcium Syrup in Hindi

Ostocalcium Syrup in Hindi :आस्टोकैल्शियम सिरप की जानकारी इसके फायदे, उपयोग और नुकसान

आस्टोकैल्शियम सिरप की जानकारी : Ostocalcium Syrup Information

Table of Contents HIDE
  • इस सिरप का मुख्य रूप से उपयोग शरीर में हो रही कैल्शियम की कमी को दूर करने के लिए किया जाता है । इस सिरप में कैल्शियम और फोस्फोरस जैसे मिनरल्ज़ मौजूद होते हैं, जो मसल्ज़ और हड्डियों को ज़्यादा मज़बूती प्रदान करने में मदद करते हैं। 
  • इनके साथ, इस सिरप का उपयोग शरीर को विटामिन D, विटामिन B १२, दिल से सम्बंध रखने वाले रोग, ऑस्टीओपरोसिस (हड्डियों का एक रोग) और इनके  जैसे और रोगों के इलाज में किया जाता है। आज हम इस लेख के माध्यम से, आपको यह बताएँगे कि इसका क्या उपयोग होता है, और इसके क्या-क्या फ़ायदे और दुष्प्रभाव होते हैं। साथ ही, हम आपको इससे सम्बंधित और आवश्यक सूचनाएँ भी देंगे।

आस्टोकैल्शियम सिरप में इस्तेमाल होने वाली सामग्री : Ingredients of Ostocalcium Syrup in Hindi

आस्टोकैल्शियम सिरप में नीचे दी गयी सभी समग्रियों का इस्तेमाल किया जाता है।-Ostocalcium Syrup in Hindi

आस्टोकैल्शियम सिरप के पैकेज और क्षमताएं:

ओस्टॉकलसिम ब १२ सिरप / Ostocalcium B 12 का सिरप, नीचे दिए गए पैकेज और क्षमता में मौजूद होता है:

ओस्टॉकलसिम ब १२ सिरप / Ostocalcium B 12 Syrup पैकेज: 200ML Syrup।

आस्टोकैल्शियम सिरप के फ़ायदे और उपयोग: Benefits and uses of Ostocalcium Syrup

इस सिरप का इस्तेमाल, नीचे दी गयी रोगों की दिक्कतें के रोकथाम और इलाज के लिए किया जाता है।

  • विटामिन डी की कमी में।
  • विटामिन बी 12 की कमी में।
  • शरीर में कैल्शियम की कमी में।
  • दिल से सबंधित रोगों में।
  • ऑस्टीओपरोसिस (हड्डियों का एक रोग) में।
  • एनेमिया के एक विशिष्ट प्रकार में।

आस्टोकैल्शियम सिरप के दुष्प्रभाव / नुकसान : Ostocalcium Syrup Side Effect in Hindi

आस्टोकैल्शियम सिरप का उपयोग करने से आपको दुष्प्रभाव हो सकते हैं, मगर यह बात ज़रूरी नही है, कि आपको इन सभी दुष्प्रभावों का अनुभव हो। हम यहाँ पर एक सूची दे रहे हैं, जिसमें इस सिरप से होने वाले दुष्प्रभावों की बात की गयी है। इनमे से कुछ साइड-इफ़ेक्ट अगर आपको कुछ समय तक रहें, तो आप तुरंत ही अपने चिकित्सक को सूचित करें, और उनसे परामर्श लें। इस सिरप के उपयोग से, यह निम्नलिखित रोग या समस्याएँ हो सकती हैं:

  • सांस लेने में दिक्कत 
  • उलटी
  • मचलाहट
  • मसल्ज़ में कमजोरी।
  • हड्डियों में कमजोरी।
  • क़ब्ज़ 
  • गुर्दे की दिक्कत 
  • हृदय की धड़कन कम होना।
  • भार में बढ़ोतरी  

अगर ऊपर दी गये रोगों के अलावा, आप किसी और रोग के लक्षण को महसूस करें, तो तुरंत ही अपने चिकित्सक से सम्पर्क करें, और उनसे परामर्श लें।

आस्टोकैल्शियम सिरप के इस्तेमाल में सावधानियां : Ostocalcium Syrup Precaution in Hindi

आस्टोकैल्शियम सिरप (ostocalcium syrup) के उपयोग करने से पूर्व, आप उसकी सभी चेतावनियों और सावधानियों के बारे में ज़रूर जान ले। अगर आप को पहले से ही बुखार है, तो इसके बारे में, अपने चिकित्सक को ज़रूर बताएँ। इस सिरप का इस्तेमाल करने से पहले, नीचे दी गयी सारी सावधानियों पर ज़रूर ध्यान दें:

  • अगर आप को पहले से बुखार या कोई और रोग है, तो इस दवा का सेवन करने से पहले, अपने चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लें।
  • अगर आप गुर्दे के, किसी भी रोग  से परेशान है, तो इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले, अपने चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लें।
  • प्रेग्नन्सी के दौरान, आप इस सिरप का इस्तेमाल करने से परहेज़ करें, और ज़्यादा जानकारी के लिए आप अपने चिकित्सक से ज़रूर मिलें।
  • शिशु को दूध पिलाते समय, महिला इस सिरप के इस्तेमाल से पहले, एक बार अपने चिकित्सक से ज़रूर सम्पर्क करें।
  • जिन लोगों में फोलिक ऐसिड जी कमी पायी जाती है, उन सबको इस दवा का इस्तेमाल करने से परहेज़ करना चाहिए।
  • अगर आप शराब पीते हैं, तो इस दवा के इस्तेमाल से पहले, आप अपने चिकित्सक से ज़रूर मिलें और उन्हें सूचित करें।
  • अगर आपको इस दवा में मौजूद किसी भी सामग्री से ऐलर्जी है, तो आप इसके इस्तेमाल से बचें, और ज़्यादा जानकारी के लिए अपने चिकित्सक से मिलें।
  • इस दवा को बच्चों और पालतू पशुओं की पहुँच से दूर रखें।
  • इस सिरप को बहुत ज़्यादा मात्रा में उपयोग ना करें, और इसको उपयोग में लाने से पहले, अपने चिकित्सक के दिशा-निर्देश बड़े ध्यान से सुनें।

ऑस्टोकैल्शियम सिरप के साथ इंटरैक्शन या पारस्परिक क्रिया:

अगर आप एक इस वक़्त पर, इस सिरप के साथ और कोई दवाओं का या बिना निर्देश दिए ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं, तो आपके शरीर पर इसका सीधा असर पड़ता है। वह इसलिए क्योंकि, यह सिरप कुछ दवाओं के साथ, परस्परिक क्रिया करना शुरू कर देता है। इसे हम इंटरैक्शन भी कहते हैं। 

जब यह क्रिया शुरू होती है, तो इससे होते साइड-इफ़ेक्ट के जोखिम और बढ़ जाते है। इसका एक और रिस्क यह भी होता है, कि यह दवा अच्छी तरह, अपना काम ही नही कर पाती। आप उन सभी दवाओं, विटामिनों और हर्बल सप्पलेमेंट, जिनका आप इस्तेमाल करते हैं, उसके बारे में आप, अपने डॉक्टर को ज़रूर बताएँ। तभी आपके चिकित्सक, आपको उन दवाओं से होते परस्परिक क्रिया से, आपका बचाव कर पाएँगे।

यह सिरप निम्नलिखित दवाओं और उत्पादों के साथ परस्पर क्रिया कर सकता है:

  • अंतिनोमय्सिन (Antinomysin)
  • अमलोपीडीन (Amlodipine)
  • आर्सेनिक ट्रायआक्सायड (Arsenic trioxide)
  • बरबीटरटेस (Barbiturates)
  • क्लोरमफेनिकोल (Chloramphenicol)
  • क्लोरेसत्यरामिन (Cholestyramine)
  • डोकसेट (Docusate)
  • फोलिक ऐसिड (Folic acid)
  • फरोसेमिड (Furosemide)
  • गबापेंटिन (Gabapentin)

ऑस्टोकैल्शियम सिरप का इस्तेमाल कब ना करें:

इस सिरप का इस्तेमाल करते वक़्त, हाइपर-सेन्सिटिविटी एक मुद्दा होता है। इसके अलावा, अगर आपको नीचे दी गई दिक्कतें हैं, तो आपको इस सिरप का इस्तेमाल नही करना चाहिए:

  • जब आपके रक्त में, कैल्शियम का स्तर साधारण से अधिक हो।
  • बहुत ही सक्रिय पैराथाइरॉइड ग्रंथि।
  • जब रक्त में फ़ॉस्फ़ेट की संख्या, साधारण से कम हो ।
  • कैल्शियम का उच्च स्तर।
  • गुर्दे में पथरी।
  • ऐलर्जी की प्रतिक्रियाएँ ।
  • मूत्र में सामान्य स्तर से, अधिक कैल्शियम।

ऑस्टोकैल्शियम सिरप अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां:

खुराक छूटना
  • अगर आपसे कोई भी खुराक छूट जाती है, तो जैसे ही याद आए,आपको जल्द से जल्द उस खुराक का सेवन कर लेना चाहिए।
  • अगर आपकी अगली खुराक का वक़्त पास आ रहा है, तो जो खुराक छूट चुकी है, उसे छोड़ दें और और अपने शेडूल को फिर से बनाकर शुरुआत करें। छूटी हुई खुराक के लिए कभी भी ज़्यादा दवाई का सेवन ना करें।
  • अगर आप नियमित रूप से अपनी खुराक को मिस करते जा रहे हैं, तो या तो आप अलार्म लगाएँ, या फिर अपने परिवार के किसी भी सदस्य को बताएँ की वो आपको याद दिलाएँ।
  • इसके बारे में अगर आप और जानकारी चाहते हैं, तो कृपया करके अपने चिकित्सक की सलाह लें।
ऑस्टोकैल्शियम सिरप / Ostocalcium Syrup की अधिक मात्रा
  • जितनी मात्रा आपके खुराक की होती है, उससे अधिक का आप सेवन ना करें। यह इसलिए क्यूँकि ज़्यादा दवा के इस्तेमाल से आपके लक्षणों में कोई ख़ास सुधार नाही होगा, पर कोई दुष्प्रभाव या साइड-इफ़ेक्ट ज़रूर आजाएगा।
  • अगर आपको लगता है कि आपने, या किसी और ने  इस सिरप की अधिक मात्रा में खुराक ले ली है, तो कृपया अपने नज़दीकी अस्पताल, या नर्सिंग होम के इमर्जन्सी विभाग में, जाएँ। आवश्यक जानकारी पाने पर, चिकित्सक की मदद ज़रूर लें। इन सबके साथ, आप चिकित्सक के पास, अपने साथ, दवाई का डब्बा, कंटेनर या लेबल ज़रूर ले जाएँ। इससे आपको फ़ायदा होगा।
  • अगर आपको पता है कि किसी इंसान की हालत आपके जैसी है, या अगर ऐसा आपको महसूस होता है कि उनका रोग आपके जैसी है, तब भी , आप कभी भी, आप अपनी दवाएं किसी और को ना दें। इन सब कारणों से भी, दवा की मात्रा ज़्यादा हो सकती है।
  • अधिक  जानकारी के लिए, अपने डॉक्टर या फ़रमाकिस्ट या उत्पाद पैकेज से सलाह लें।

कुछ और जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 439

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top