Normaxin

Normaxin in hindi नॉरमैक्सिन:उपयोग,खुराक,दुष्प्रभाव,सावधानी

नॉरमैक्सिन(Normaxin) मुख्य रूप से पेट दर्द  में , शराब वापसी के लक्षण ,अवसाद के लक्षण में भी उपयोग किया जाता है इसका इस्तेमाल इर्रिटेबल बॉवेल सिंड्रोम- ये पेट से जुड़ा एक विकार है जिसमे आंतो में मरोड़ आता है और बहुत ही तेज पीड़ा होती है,उसमे भी किया जाता है |

नॉरमैक्सिन के उपयोग(Uses of Normaxin

  • ऐंठन – इसका उपयोग मांसपेशीयो की ऐंठन में भी किया जा सकता है। 
  • पेंट दर्द – इसका इस्तेमाल पेट दर्द में करने से तुरंत आराम मिलता है। 
  • शराब छुड़ाने में – इसका उपयोग शराब छुड़ाने में भी किया जाता है इसमें मौजूद सीडेटिव अपना असर दीखता है और शराब छुड़ाने में मदद करता है। 
  • अवसाद – इसका इस्तेमाल अवसाद के लक्षणों को कम करता है यह भी सीडेटिव अपना पूरा असर दिखाता है। 
  • इसका इस्तेमाल इर्रिटेबल बॉवेल सिंड्रोम में भी किया जाता है यह आंतो में होने वाले खीचाव को भी कम करता है। 
  • मासिक धर्म – इसका इस्तेमाल मासिक धर्म में होने वाली पीड़ा के लिए भी किया जाता है।

नॉरमैक्सिन की संरचना(Structure of noremaxine

  • क्लोर्डियाज़ेपॉक्साइड – 5 मि.ग्रा.पाया जाता है। 
  • क्लिडिनियम ब्रोमाइड – 2.5 मि.ग्रा.पाया जाता है। 
  • डायसाइक्लोमाइन -10 मि.ग्रा.पाया जाता है।

नॉरमैक्सिन कैसे काम करता है(How Normaxin works

  • क्लोर्डियाज़ेपॉक्साइड – ये एक प्रकार का सीडेटिव है जो बेचैनी ,अनिंद्रा ,और शराब छुड़ाने में मदद करता है। 
  •  क्लिडिनियम ब्रोमाइड – ये एक प्रकार का एंटीकोलिनर्जिक है ये पेट में खीचाव पेट दर्द और पेट के अम्ल को भी कम करता है इस तत्व का नाम लिबरैक्स है। 
  • डायसाइक्लोमाइन– ये तत्व आंतो के खीचाव को कम करता है ये लक्षण इर्रिटेबल बॉवेल सिंड्रोम में पाये जाते है।

नॉरमैक्सिन कैसे ले (How to take Normaxin)

  • नॉरमैक्सिन दवा का सेवन डॉक्टर के परामर्श  अनुसार करे। 
  • नॉरमैक्सिन दवा का सेवन टैबलेट के रूप में किया जाता है। 
  • इसे हमेशा पानी के साथ ले दो खुराकों के बीच समय अंतराल एक होना चाहिए। 
  • इसे आमतौर खान के बाद या खाने के साथ लिया जाता है। 
  • खुद से दवा के खुराक में बदलाव ना करे ऐसा कुछ भी करने से पहले अपने डॉक्टर से अवश्य संपर्क करे।

सामान्य तौर पर ली जानी वाली नॉरमैक्सिन की खुराक(Commonly taken Normaxin supplements

  • गर्भवती महिलाओ को इस दवा का सेवन करने से बचना चाहिए और तभी ले जब डॉक्टर कहे गर्भवती महिलाओ को ये दवा २ से ३ दिन के अंतराल में लेना चाहिए। 
  • बच्चो को इस दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए। 
  • जो भी महिला गर्भधारण करने की योजना बना रही है और वो इस दवा का सेवन करती है तो पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले। 
  • बिना चिकित्सक के परामर्श इस दवा को लेने से परहेज करे।

नॉरमैक्सिन संबंधित पूछे जाने वाले सवाल(Related Questions

  • यदि ज्यादा मात्रा में ले ली जाए तो क्या होगा -किसी भी दवा की अधिक खुराक किसी अप्रिय घटना को आमंत्रण हो सकता है इसलिए अपने चिकित्सक द्व्रारा तय की गई खुराक ही ले और ऐसा होने पर अपने चिकित्सक से जल्द से जल्द संपर्क करे और अपने अनुसार कोई भी बदलाव करने से परहेज करे। 
  • यदि नॉरमैक्सिन की खुराक लेना भूल जाए तो क्या होगा -यदि नॉरमैक्सिन की खुराक छूट जाए तो तुरंत ले और अगर दूसरी दवा का  वक़्त हो गया हो तो उस खुराक को ना ले ये किसी भी दवा की अधिक खुराक किसी अप्रिय घटना को आमंत्रण हो सकता है इसलिए दवा अपनी खुराक के अनुसार ले क्योंकि चकित्सक आपकी दवा की खुराक आपकी उम्र , वजन और रोग इतिहास को ध्यान में रखते हुए आपकी खुराक तय करता है। 

कब इस दवा को लेने से परहेज करना चाहिए(When should you avoid taking this medicine)

  • गर्भावस्था – स्तनपान कराने वाली महिलाओ को इस दवा को खाने से परहेज करना चाहिए। 
  • इसके किसी भी तत्व के एलर्जी के इतिहास में इस दवा को नहीं लेना चाहिए। 
  • किडनी संबंधी किसी भी समस्या में इस दवा को लेने में सावधानी बरते। 
  • किसी भी मांशपेशी संबंधी बिमारी में इसे लेने से परहेज करे 

नॉरमैक्सिन के शरीर पर प्रभाव (दुष्प्रभाव)(Noremaxine’s effects on the body (side effects))

  • सर दर्द 
  • सेक्सुअल डिजायर की कमी 
  • अनिंद्रा 
  • मुँह सुखना
  • आँखो की मांशपेशियों में दबाव महसूस होना 
  • देखने में तकलीफ 
  • इनमे से किसी भी प्रकार के तकलीफो में अपने चिकित्सक से संपर्क करे
  • अंगो पर प्रभाव 
  • दिल और गुर्दे से कमजोर मरीजों को इस दवा को लेने में सावधानी बरतना चाहिए ऐसे  मरीजों को दिन में १ से ज्यादा खुराक नहीं दी जाती 
  • ऐसे में डॉक्टर के अनुसार ही दवा ले। 
  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की गड़बड़ी में बिलकुल भी ये दवा ना ले| 

मार्किट में उपलब्धता (Availability in the market)

  • मार्किट में ये टैबलेट के रूप में उपलब्ध है ये दवा सिस्टोपिक लेबोरेटरीज प्राइवेट लिमिटेड कंपनी द्वारा बनाई जाती है। 
  • इसके १० टैबलेट की कीमत १९ रुपए है इस दवा के लिए डॉक्टर द्वारा लिखित प्रिस्क्रिप्शन की जरूरत नहीं क्योकि ये दवा एच अनुसूचित नहीं है

सावधानी (Caution)

  • इसे शराब के साथ लेने से परहेज करे। 
  • इसका उपयोग केवल रोगो के लक्षणों पर लगाम लगाने के लिए  जाता है लम्बे समय तक उन लक्षणों से आराम ना मिले तो ऐसे में अपने चिकित्सक से संपर्क करे। 
  • किसी भी दवा का प्रयोग लम्बेसमय तक ना करे और खुद से अपनी खुराक में कोई बदलाव ना लाए। 

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 395

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top