Krimson 35 Tablet in hindi

Krimson 35 Tablet in hindi:क्रिमसन 35 टैबलेट क्या है? इसके फायदे, उपयोग और नुकसान 

क्या है क्रिमसन 35 टैब्लेट?

  • क्रिमसन 35 टैबलेट का उपयोग प्रोस्टेट कैंसर, प्रेग्नन्सी या गर्भावस्था और  पोस्टमेनोपॉजल ओस्टियोपोरोसिस को रोकने के लिए किया जाता है।  इसमें ऐसा एस्ट्राडियोल, साईप्रोटेरोन है, जो शरीर में साधारण एस्ट्रोजेन स्तर को बनाए रखने में सहायता करता है। 
  • इस लेख में आपसे  क्रिमसन 35 टैबलेट के लाभ, उपयोग और नुकसान के बारे में बात करेंगे।

क्रिमसन 35 की रासायनिक संरचना:

  • यह टैबलेट प्रोजेस्टोजेन साइप्रोटेरोन एसीटेट और एस्ट्रोजेन एथिनलोएस्ट्रैडियोल से बना है और मासिक साइकिल के 21 दिनों के लिए निर्धारित किया जाता है। इसलिए यह एक संयुक्त मौखिक गर्भनिरोधक (COC) के समान संरचना रखता है। 
  • किसी भी सीओसी या क्रिमसन 35 का इस्तेमाल गहन थ्रोम्बोसिस और फुफ्फुसीय अन्त: शल्यता सहित शिरापरक थ्रोम्बोम्बोलिज़्म (वीटीई) के लिए एक बढ़ा जोखिम वहन करता है। वीटीई का सबसे ज़्यादा जोखिम पहले वर्ष के दौरान है जो एक महिला कभी सीओसी का उपयोग करती है।

क्या करता है क्रिमसन 35 टैब्लेट?

  • यह टैब्लेट ब्लॉक ‘एण्ड्रोजन रिसेप्टर्स’ में साइप्रोटेरोन एसीटेट मोजूद है । यह ‘हाइपोथैलाम’ पिट्यूटरी ओवेरीयन सिस्टम पर नेगेटिव प्रतिक्रिया करता है। एण्ड्रोजन संश्लेषण एंजाइम के रोक से, दोनों एण्ड्रोजन के चिपकाव को कम करती है। 
  • यह दवा एण्ड्रोजन पर आधारित कमजोर, या समाप्त किए हुए एण्ड्रोजन पर निर्भर पुरुष सेक्स हार्मोन को उत्तेजना प्रभाव करता है। साइप्रोटेरोन एसीटेट एण्ड्रोजन के शक्ति को करती। यह चर्बी युक्त ग्रंथियों की गतिविधि को कम करती है, जो मुँहासे और ‘सेबोर्रहिया’ नामक त्वचा के दोष के विकास में अहम योगदान निभाती है। 
  • बताए गए एंटीएंड्रोजन प्रभाव के अलावा, साइप्रोटेरोन एसीटेट में एक गर्भावधि क्रिया भी होती है। संरचना में एथिनाइलेस्ट्राडिल ओव्यूलेशन को रोकता है और गर्भाशय ग्रीवा बलगम को बदलता है। एंडोमेट्रियम उन्हें शुक्राणु के प्रवेश और एक फ़र्टिलैज़ड  अंडे  के लिए प्रतिकूल माहौल प्रदान करती है।

क्रिमसन 35 टैबलेट के फ़ायदे और उपयोग: Benefits & Uses of Krimson 35 Tablet in Hindi

क्रिमसन 35 टैबलेट(Krimson 35 Tablet in hindi) का इस्तेमाल महिलाओं की गम्भीर समस्या जैसे कि मुँहासों के उपचार में किया जाता है। इस गोली के और भी कई उपयोग और फ़ायदे है। वह निमनलिखितिक हैं: 

  • पीसीओ
  • प्रोस्टेट कैंसर
  • मौखिक गर्भनिरोधक (ओरल कोंटरकेप्टिव)
  • मुँहासे
  • स्तन कैन्सर 
  • गर्भाशय से रक्त का बहाव 
  • मासिक धर्म में दर्द और ऐंठन
  • महिला में देर से युवावस्था आना(Late puberty in women)
  • अंडाशय की बढ़ोतरी में विफलता
  • बार बार गर्भपात होना
  • आदमियों में बची हुई यौन रुचि(Remained sexual interest in men)
  • माहवारी

क्रिमसन 35 टैबलेट से सावधनियां: Precautions of Krimson 35 Tablet in Hindi

आप  जब भी क्रिमसन 35 टैबलेट का सेवन करे, तो  उससे पहले अपने चिकित्सक से अपनी पुरानी और वर्तमान दवाइयों, एलर्जी, पुरानी बीमारियों और अभी की सेहत की  स्थिति के बारे में जानकारी ज़रूर दें। हमेशा अपने चिकित्सक  के दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार ही दवाइयों को लें या प्रिंट किये गए निर्देशों का पालन करें। यदि  आपके स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं होता है, या आपकी तबीयत और खराब हो जाती है तो तुरंत अपने नजदीकी चिकित्सक से संपर्क करें।

  • जिगर की बीमारी
  • कोरोनरी रोग
  • दवा के सेवन के वक़्त ध्रूमपान से बचें
  • जब भी क्रिमसन 35 टैबलेट का सेवन काटें, तो शराब से दूर रहें।
  • गर्भवस्था के समय क्रिमसन 35 टैबलेट का उपयोग न करें।
  • अगर आपको माइग्रेन है तो आप इसका उपयोग न करें।

क्रिमसन 35 टैबलेट के नुकसान: Side Effects of Krimson 35 Tablet in Hindi

उपयोगकर्ताओं से ये बात सामने आयी है, की क्रिमसन 35 टैबलेट के काफ़ी सारे दुष्प्रभाव हैं और ये दुष्प्रभाव संभव भी होते है, पर आवश्यक  नहीं हैं, की ये सदा हो ही। काफ़ी  बार ये दुष्प्रभाव या साइड-इफ़ेक्ट गंभीर भी हो सकते है। यदि आपको ऐसे किसी सैदे-इफ़ेक्ट का पता चलता है, तो तुरंत ही अपने नजदीकी चिकित्सक से संपर्क करें और उनसे अपने दुष्प्रभाव के बारे में परामर्श लें। वह दुष्प्रभाव यह रहे:

यदि आपको ऐसे किसी भी दुष्प्रभाव का पता चलता है, जो दी गयी सूचि में भी नहीं बताया गया है, तो तुरंत अपने नजदीकी चिकित्सक  से संपर्क करें और अपने दुष्प्रभावों के बारे में परामर्श लें।

क्रिमसन 35 टैब्लेट की खुराक या डोसिज: Dosage of Krimson 35 Tablet in Hindi)

  • कभी भी किसी चिकित्सक के दिशा-निर्देशों के अनुसार ही इस दवा का सेवन करना शुरू करें।
  • क्रिमसन 35 टैबलेट को पहले  21 दिन तक प्रतिदिन लें और फिर, इसके बाद 7 दिन के बाद  इसको लेना बंद कर दें। पहला चक्र सदा मासिक धर्म के पहले दिन शुरू करना चाहिए।
  • खुराक का चक्र उसी प्रकार शुरू करना चाहिए कि  पहला चक्र वापस लेने से खून बहने की हालत में सुधार आसके।
  • लक्षणों में सुधार आने के बाद, क्रिमसन 35 टैबलेट (3 से 4) चक्रों को बंद कर दें। किसी की भी सलाह से इस दवाई की खुराक को लम्बे समय तक उपयोग न करें। चिकित्सक के कहने पर ही आप इसको लम्बे समय तक ले सकते है।
  • मरीज़ के सेहत की स्थिति और चिकित्सक के कहे अनुसार ही दवाई का सेवन करें।

क्रिमसन 35 टैब्लेट की इंटरैक्शन या पारस्परिक क्रिया: (Krimson 35 Tablet Drug Interactions in Hindi)

आप जब भी क्रिमसन 35 टैबलेट का सेवन करें, तो ज़रूरी है की उससे पहले अपने चिकित्सक को अपनी सभी वर्तमान दवाइयाँ, विटामिन या हर्बल सप्लीमेंट्स के बारे में जानकारी दें।  उन सब दवाओं के बारे में बताएँ जिनका आप सेवन कर रहे है। 

सभी इंटरैक्शन या परस्पर करने वाली दवाइयों को यहाँ सूचीबद्ध नहीं किया गया है। क्रिमसन 35 टैबलेट के साथ प्रभाव डालने के लिये कुछ साधारण दवाओं के नाम निम्न होते  है –

  • एण्ड्रोजन
  • डीकुमरोल
  • शराब
  • कार्बामांजेपाइन

क्रिमसन 35 टैब्लेट की आवश्यक सूचनाएँ:

  • क्रिमसन 35 टैबलेट:

क्रिमसन 35 टैबलेट को एक चिकित्सक से निर्देशित खुराक के अनुसार ही सेवन किया जाता है। यह गर्भनिरोधक के रूप में काम करता है। क्रिमसन 35 टैबलेट में अहम सामग्री के रुप में सायप्रोटेरॉन एसीटेट और एथीनयल एस्ट्राडियोल मोजूद हैं। क्रिमसन 35 टैबलेट का इस्तेमाल पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (पीसीओएस) के इलाज में किया जाता है। यह पीसीओएस के लक्षणों जैसे कि बालों का बहुत ज़्यादा बढ़ना (हिर्सुटिज़्म), मुंहासे और अनियमित पीरियड्स का उपचार भी करता है।

  • उपयोग:

क्रिमसन 35 टैबलेट का इस्तेमाल  अलग-अलग स्थितियों और लक्षणों के इलाज और रोकथाम के लिए किया जाता है, जैसे कि पॉलीसिस्टिक ओवेरी सिंड्रोम, प्रेग्नन्सी के पुनरावर्ती एपिसोड, मेनपॉज़ से संबंधित समस्याएं, मासिक धर्म में देरी, मासिक धर्म के दौरान दर्द और ऐंठन, अंडाशय विकास में विफलता, स्तन कैंसर और अक्रियाशील गर्भाशय रक्त के बहने का होना है। इसके अलावा, इसका इस्तेमाल महिलाओं में गंभीर मुहाँसे, ओरल एंटी-बायोटिक और अन्य थेरेपी के प्रति अनुत्तरदायी और एण्ड्रोजन से जुड़े लक्षणों के साथ भी इलाज किया जाता है।

  • दुष्प्रभाव:

क्रिमसन 35 टैबलेट के कुछ अनचाहे दुष्प्रभाव है। इसमें जी मिचलाना, पेट दर्द, सिरदर्द, वजन बढ़ना, पानी की कमी, स्तन में दर्द, मूड स्विंग्स, पीरियड में देरी, अचानक रक्त बहना शुरू होना, एक्ने और पिम्पल्स शामिल है। इसके गंभीर दुष्प्रभाव  में शामिल हैं: यूटराइन ब्लीडिंग, यूटराइन इंफेक्शन, अत्यधिक थकावट, उल्टी, योनि से अत्यधिक ब्लीडिंग, पेट में ऐंठन, सिरदर्द और एंग्जायटी।

  • क्रिमसन 35 टैबलेट के इस्तेमाल से मतली और उल्टी की गुंजाइश:

हाँ, क्रिमसन 35 टैबलेट के इस्तेमाल  से कुछ अनचाहे प्रभाव हो सकते हैं, जिसमें मतली और उल्टी भी शामिल हैं। यह उचित खुराक लेने के बाद भी पैदा हो सकते हैं। ऐसे मामलों में, एक चिकित्सक से तुरंत सलाह लेनी चाहिए। यदि आप किसी और दवा को ले रहे है, तो अपने डॉक्टर को ज़रूर सूचित करें।

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 435

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top