Garlic in Hindi

Garlic in Hindi : लहसुन क्या है, लहसुन के फायदे (Garlic Benefits in Hindi)

लहसुन क्या है?

लहसुन(Garlic in Hindi) एक आयुर्वेदिक खाद्य पदार्थ होता है। यह हर रसोई घर में पाई जनि वाली एक आम सामग्री है,  लहसुन का इस्तेमाल आयुर्वेदिक औषधि के रूप में भी किया जाता है। लहसुन के अंदर सल्फर युक्त यौगिक और एलिसिन पाया जाता है लहसुन के अंदर उपस्थित लाभों का श्रेय इन्हे दिया जाता है, जो की ताजे, कुचले या चबाए गए लहसुन में पाया जाता है, जिसके कारण इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं। कुछ चौंकाने वाले दावों का उल्लेख है कि यह कुछ प्रकार के कैंसर को भी रोकने में मदद कर सकता है। लहसुन के स्वास्थ्य लाभ काफी हैं। इसके कई स्वास्थ्य लाभ गुणों के कारण प्राचीन काल से ही इसका इस्तेमाल किया जाता है , जिसका आज भी कई संस्कृतियों में पालन किया जाता है। हमारे पूर्वजों ने इसे प्लेग महामारि के खिलाफ उपयोग किया था। मध्यकालीन यूरोप में बग-प्रतिकारक के रूप में इस्तेमाल किया है और मिस्रवासी इसे अपने मृतकों के साथ दफना देते थे !

भुने हुए लहसुन की सुगंध बहुत ही अच्छी होती है यह अपने शक्तिशाली गुणों के साथ इतना उपयोगी होता है, कि इसका उपयोग , फ्राइज़, पिज्जा टॉपिंग, पास्ता, नॉनवेज को बनाने के लिए , और स्वाद बूस्टर के रूप में किया जाता है इसमें किसी भी व्यंजन को तुरंत जीवंत करने और कुछ सबसे आम बीमारियों का इलाज करने की शक्ति है। जबकि लहसुन जो होता है वह प्याज परिवार का एक हिस्सा है  प्रत्येक 100 ग्राम लहसुन आपको करीब 150 ग्राम कैलोरी, 33 ग्राम कार्बोस, 6.36 ग्राम प्रोटीन प्रदान करेगा। लहसुन विटामिन बी1, बी2, बी3, बी6, फोलेट, विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, मैंगनीज, फॉस्फोरस, पोटेशियम, सोडियम और जिंक से भी समृद्ध होता है।

पोषण विशेषज्ञ और वजन घटाने के जो सलाहकार होते है वह लहसुन के औषधीय लाभों के प्रशंसक होते हैं। वह कहते हैं, “लहसुन में उच्च सल्फर सामग्री इसे एंटीबायोटिक गुण देती है, विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालकर पाचन तंत्र को साफ रखने में मदद करती है। यह सामान्य सर्दी के खिलाफ प्रतिरक्षा भी बनाता है और अवरुद्ध धमनियों को साफ करके हृदय रोगों को रोकता है। यह कायाकल्प के लिए बहुत अच्छा है और त्वचा के दाग-धब्बों को ठीक करता है और त्वचा को चमक देता है क्योंकि यह पाचन को शीर्ष आकार में रखता है। लहसुन का औषधीय महत्व उसे कच्चा खाने पर सबसे ज्यादा होता है। यदि आप रोजाना लहसुन का थोड़ी मात्रा में सेवन करते है, तो यह आप के स्वास्थ के लिए काफी फायदेमंद होता है| और आप को तंदुरस्त रखने में सहायता करता है। यदि आप कच्चे लहसुन का सेवन करते है तो यह अधिक अच्छा होता है, पके हुए लहसुन से, क्योकि पकाए हुए लहसुन से सभी प्रकार के औषधीय  गुण जो है वह नष्ट हो जाते है।  

लहसुन और शहद से होने वाले लाभ और हानि

लहसुन के फायदे और उपयोग  : Garlic Benefits and Uses in Hindi 

वजन कम करने में लहसुन के फायदे : Garlic Use for Weight Loss

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं, तो एक गिलास गुनगुने पानी में आधा नींबू का रस निचोड़ लें और सुबह लहसुन की 2 कलियों के साथ इसका सेवन करें। लहसुन आपके सिस्टम को साफ करने और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करेगा।

ब्लड प्यूरीफायर के रूप में लहसुन के फायदे : Benefits of Garlic as a Blood Purifier

अगर आप अपने चेहरे पर होने वाली मुहसो और झुर्रियों से परेशान है और अगर आप स्वस्थ त्वचा पाना चाहते है तो स्वस्थ त्वचा पाने के लिए अपने रक्त को अंदर से शुद्ध करके मुंहासों के मूल कारण से निपटने का समय आ गया है। इसके लिए कच्चे लहसुन की दो कलियां रोज सुबह-सुबह थोड़े गर्म पानी के साथ लें और पूरे दिन खूब पानी पिएं। 

सर्दी और फ्लू में लहसुन के फायदे : Benefits of garlic in cold and flu

लहसुन आपको सर्दी और फ्लू से राहत दिला सकता है कच्चे या पके हुए लहसुन की 2-3 कलियाँ प्रतिदिन लेने या लहसुन की चाय (शहद या अदरक का उपयोग स्वाद बढ़ाने के लिए कर सकते है ) की चुस्की लेने से न केवल भरी हुई नाक से राहत मिलती है और सर्दी का इलाज होता है, बल्कि आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। 

हृदय रोग की रोकथाम में लहसुन के फायदे : Benefits of Garlic in making the heart Healthy

रोजाना लहसुन का सेवन (भोजन या कच्चे में) एलिसिन के एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों के कारण कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है। यह रक्तचाप और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए भी बेहद फायदेमंद है। यह याद रखना आवश्यक है कि सल्फर युक्त यौगिक एलिसिन लहसुन को पूरी तरह से पकाए जाने पर अपने औषधीय गुणों को खो देता है। इसके किसी भी लाभ को प्राप्त करने के लिए लहसुन को कच्चा या आधा पकाकर सेवन करना अनिवार्य है।

एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-पैरासिटिक : Anti-bacterial and Anti-parasitic

लहसुन प्राचीन कल से ही सबसे अच्छे औषधीय खजाने में से एक है – इसका उपयोग पिछले 7,000 वर्षों से बैक्टीरिया, फंगल और परजीवी संक्रमण के इलाज के लिए एक एंटीबायोटिक के रूप में किया जाता रहा है। अध्ययनों से पता चलता है कि पतला लहसुन का सेवन बच्चो को कराने से बच्चों को टैपवार्म संक्रमण में मदद मिलती है। लहसुन आधारित माउथवॉश भले ही ताजा, मिन्टी सांस की तरह न लगे, लेकिन इसके अर्क की बहुत कम मात्रा कैविटी पैदा करने वाले बैक्टीरिया को दूर करने के लिए पर्याप्त है। -Garlic in Hindi

कैंसर की रोकथाम में लहसुन के फायदे : Garlic use to prevent cancer

कई अध्ययनों ने लहसुन के दैनिक सेवन और पेट और कोलोरेक्टल कैंसर की रोकथाम के बीच संबंध का संकेत दिया है। ऐसा कहा जाता है कि यह कैंसर के खिलाफ शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है ।क्योकि लहसुन के अंदर एलिसिन सल्फर यौगिकों के उपस्थिति के कारण यह कैंसर की कोशिकाओं को ख़त्म करने का काम करता है। लहसुन का सेवन अगर आप प्रतिदिन करते है तो यह पाचन क्रिया और फेफड़ो की क्रिया को ठीक करता है। यह ट्यूमर के आकर को भी बढ़ाने से भी रोकता है। -Garlic in Hindi

त्वचा के लिए लहसुन के फायदे : benefits of garlic for skin

लहसुन के स्फूर्तिदायक गुण त्वचा को मुक्त कणों के प्रभाव से बचाते हैं। लहसुन का उपयोग फंगल संक्रमण से संक्रमित त्वचा के लिए चमत्कारी होता है और एक्जिमा जैसी त्वचा की बीमारियों से राहत देता है। यह एथलीट फुट और दाद जैसे फंगल संक्रमण के लिए भी एक प्रभावी उपाय है। -Garlic in Hindi

बालो के लिए लहसुन के फायदे :Garlic properties in strengthening hair

बालों के लिए प्याज के चमत्कारों के बारे में तो हम सभी जानते हैं लेकिन इसका भाई लहसुन आपके पतले बालों के लिए किसी हीरो से कम नहीं है। कुचले हुए लहसुन के अर्क को अपने स्कैल्प पर मलने या लहसुन के तेल से मालिश करने से बालों के झड़ने को रोकने और यहां तक ​​कि यह आपके बालो को झड़ने से भी रोकता है 

यदि आप बालो के झड़ने से  बहुत ज्यादा परेशान है तो आपको लहसुन का सेवन करना चाहिए क्योकि इसमें एलिसिन सल्फर पाया जाता है जो बालो को झड़ने से रोकता है। 

प्रतिरक्षा प्रणाली और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में लहसुन के फायदे : Garlic beneficial in enhancing immune system

लहसुन के अंदर पाए जाने वाले विटामिन c, विटामिन B, कैल्शियम. कॉपर, फाइबर,और आइरन की मात्रा होने के कारण यह हमारे शरीर में प्रतिरोधक क्षमता और इम्युनि सिस्टम को  बढ़ाने का और सुधारने का काम भी करता है। इसमें विभिन्न प्रकार के खनिज पदार्थ पाए जाते है। यह विभिन्न प्रकार की बीमारियों जैसे: सर्दी,जुखाम के इन्फेक्शन को ख़त्म करने का काम करता है। विशेषज्ञों द्वारा यह भी कहा गया है यदि आप लहसुन को रोजाना १-२ कली खाते है तो यह आप की ६०% इन्फेक्शन बीमारियों को ख़त्म कर पाता है।

लहसुन के साइड इफ़ेक्ट / नुकसान : Side Effect of Garlic in Hindi

1. अस्थमा के मरीजों को लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

2. सर्जरी या मेडिकल ऑपरेशन से पहले लहसुन से बचना चाहिए।

3. बिना डॉक्टर की सलाह के एक दिन में 2-3 से ज्यादा लहसुन की कली का सेवन न करें।

4.लहसुन खाने से आपके मुँह से बदबू आ सकती है।

5.गर्भवती महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए । क्योकि यदि आप गर्भवती है और कच्चे लहसुन का सेवन करती है तो इससे आपके भ्रूण के ऊपर साइड इफ़ेक्ट हो सकता है क्योंकी लहसुन बहुत ही ज्यादा गरम होता है जिसके कारण आपको प्रीमेच्योर बेबी भी हो सकता है। इसलिए गर्भवती महिला को पपीता का सेवन करने का भी मना किया जाता है । क्योकि यह भी बहुत ज्यादा गर्म होता है।

नोट : बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी प्रदार्थ का अधिक सेवन न करे।

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 429

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top