ear cancer

Ear cancer ईयर कैंसर क्या है?लक्षण,साइंटिफिक उपाय,घरेलू उपाय

कान का कैंसर क्या है ?(What is ear cancer)

कैंसर शरीर में कहीं भी हो सकता है लेकिन कान में होने वाला कैंसर(Ear cancer) का शुरुआती लक्षण बहुत ही मामूली होता है ,जिसे अक्सर लोग अनदेखा कर देते हैं। कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिस के शुरुआती लक्षण जल्दी दिखाई नहीं देते है, लेकिन वह धीरे-धीरे एक भयंकर रूप ले लेते हैं। जो आपकी जिंदगी को पूरी तरह से तहस-नहस कर देता है। आज की खराब लाइफस्टाइल और खानपान की वजह से अचानक से लोग बड़ी बीमारी का शिकार हो जाते हैं। कई बार यह बीमारियां बहुत ज्यादा जानलेवा साबित हो जाती हैं।

कान में होने वाला कैंसर एक ट्यूमर के रूप में कान के अंदर और बाहर दोनों जगह पर हो सकता है। इन कैंसर की कोशिकाओं को चिकित्सक भाषा में  स्कावमस सेल कार्सिनोमा के नाम से भी जाना जाता है। यह कैंसर धीरे-धीरे पूरे शरीर में भी फैल सकता है और आपके दूसरे अंगों में भी अपने कैंसर सेल्स फैला सकता है।

कान के कैंसर के लक्षण (Symptoms of ear cancer)

जैसे जैसे लोगों के लाइफ स्टाइल में बदलाव आ रहा है वैसे वैसे लोगों को गंभीर बीमारियां अपनी चपेट में ले रही है। जिनमें से कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो लगातार लोगों में बहुत तेजी से बढ़ती जा रही है। किसी भी तरह का कैंसर होने से पहले वह कुछ जरूरी संकेत जरूर देता है जिन्हें लोग अक्सर मामूली रोग समझ कर अनदेखा कर देते हैं। आज हम आपको कान के कैंसर के कुछ शुरुआती लक्षणों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें बिल्कुल भी अनदेखा करने की कोशिश ना करें वरना यह आपके लिए जानलेवा साबित हो सकता है।

  • कान से पानी निकलना (Kaan se paani nikalna)

कान से पानी जैसा लिक्विड निकलना या फिर खून निकलना, founder तो इसको गलती से भी इग्नोर ना करें।

  • डैमेज इयर ड्रम (Damage ear drum)

अगर आपको ऐसा लगे कि आपके इयर ड्रम डैमेज हो गए हैं तो इनकी तुरंत जांच करवाएं किसी अच्छे डॉक्टर से और इस बात का सही से पता लगाएं कि कहीं आपको कैंसर तो नहीं है।

  • कान में इन्फेक्शन (Kaan mai infection)

अगर आपके कान में दर्द या इन्फेक्शन हो तो इसे अनदेखा ना करें यह सोच कर कि यह कोई मामूली प्रॉब्लम है क्योंकि हो सकता है कि यह एक गंभीर समस्या हो और कैंसर का संकेत बनके आपके सामने आई हो इसीलिए की तुरंत जांच करवाएं किसी अच्छे डॉक्टर से।

  • कान बंद हो जाना (Kaan band hojana)

कई बार ऐसा होता है कि कान में पानी चले जाने की वजह से वह बंद हो जाता है, पर किसी वजह से सुनाई देना बंद हो जाए तो इस को हल्के में ना लें और तुरंत जांच करवाएं क्योंकि हो सकता है वह पानी की वजह से आपके कान में कुछ प्रॉब्लम आ गई हो जिसकी वजह से आपको सही से सुनाई नहीं दे रहा है।

  • कान में खुजली होना (Kaan mai khujli hona)

हो सकता है कि आपके कान में खुजली होने लगे क्योंकि आमतौर पर कान में मैल जमा होने की वजह से खुजली होने लगती है लेकिन अगर कान में ज्यादा समय तक खुजली हो रही है तो इसको हल्के में ना लें और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करके इसका सही तरह से चेकअप करवाएं।

  • कान में बहुत तेज दर्द होना (Kaan mai bhut tezz dard hona)

अगर मुंह खोलते समय कानों में बहुत तेज दर्द होने लगे तो भी हो सकता है कि आपको कान के कैंसर का खतरा हो इसीलिए इस संकेत को बिल्कुल भी अनदेखा ना करें और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करके इसका सही तरीके से चेकअप करवाएं।

  • सर दर्द होना या उल्टी होना (Sir dard ya ulti hona)

इन सब चीजों के अलावा अगर कान दर्द के साथ ही सर दर्द और उल्टी आए तो सतर्क हो जाए क्योंकि यह एक गंभीर संकेत है कान का कैंसर होने का और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करके इसका इलाज करवाएं।

ईयर कैंसर के उपाय (Treatment For Ear cancer)

साइंटिफिक उपाय (Scientific Treatment)

  • सर्जरी (Surgery)

अगर कान का कैंसर शुरुआती स्टेज में ही पता चल जाए तो सर्जरी कराना बेहतर होगा। सर्जरी के दौरान सर्जन कैंसर की कोशिकाओं और ऊतकों को काटकर बाहर निकाल देता है जिस की वजह से आपका कैंसर वाला हिस्सा बाहर आ जाता है और आप स्वस्थ हो जाते हैं।

  • रेडिएशन (Radiation)

अगर आपके कान में कैंसर पूरी तरह से फैल गया है तो रेडिएशन का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा होगा। रेडिएशन के दौरान निकलने वाली ज्यादा मात्रा में रेडियो एक्टिव करने की उर्जा कैंसर सेल्स को पूरी तरह से खत्म कर देती है। लेकिन इससे बॉडी के अच्छे सेल्स भी खत्म हो जाने का खतरा बना रहता है इसीलिए इसको बहुत ही सावधानी से किया जाता है और यह ट्रेंड डॉक्टर के द्वारा किया जाता है।

  • कैमियो थेरेपी (Chemotherapy)

कीमोथेरेपी एक प्रकार का इलाज है जिसमें दवाओं के जरिए कैंसर की कोशिकाओं को खत्म किया जाता है। जिससे कि वह कोशिकाएं शरीर के अन्य हिस्सों में न फैल सके और कैंसर सेल्स खत्म हो जाए। कीमो थेरेपी एक आखरी विकल्प होता है इस समस्या से पूरी तरह से निजात दिलाने के लिए।

घरेलू उपाय (Home Remedies For Ear Cancer)

  • फल और सब्जियां खाना

ज्यादा से ज्यादा हरी पत्तेदार सब्जियों, चने और फलों का सेवन करें। इनमें बहुत मात्रा में फाइबर होता है जो कई प्रकार के कैंसर से लड़ने में बहुत मदद करता है। गाजर, फूलगोभी, पत्तागोभी, टमाटर खाएं। रोजाना 1 सेब जरूर खाएं।

  • हेल्थी कुकिंग करें

अपने खाने को माइक्रोवेव में या फिर कल करना बनाएं। उबला हुआ या स्टीम भोजन लें। कोशिश करें कि खाना ताजा पकाकर ही खाएं और यह जरूर देख लें कि आप जो तेल खाने जा रहे हैं वह स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद है।

कान के कैंसर से बचाव के लिए सबसे पहले हमें धूम्रपान आदि नशीले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। हमको इन सभी पदार्थों को त्याग देना चाहिए ताकि कैंसर जैसी भयानक बीमारी हमारे शरीर में प्रवेश ना करें। इसी के साथ साथ अपने आसपास के लोगों में नशीली पदार्थों के खिलाफ जागरूकता फैलाए। कभी भी हमें ज्यादा शोर-शराबे वाली जगहों पर नहीं बैठना चाहिए और अपने कान में किसी भी प्रकार की सोई या फिर नकली चीजों को ना डालें। उसके अलावा यदि आपको किसी भी प्रकार के किडनी संबंधित परेशानी होती है तो अपने नजदीकी चिकित्सक से संपर्क करें क्योंकि कान के कैंसर से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या को हलके में ना लें।

कैंसर के बारे में कुछ और महत्वपूर्ण जानकारिया

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 330

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top