Divya Medohar Vati

Divya medohar vati|दिव्य मेदोहर वटी लाभ और उपयोग

आज के समय में मोटापा एक बहुत बड़ी समस्या बन गया है। जिसका सबसे बड़ा कारण है, कि आज के समय की गतिविधियां इस प्रकार की बन गई है कि लोगों को बहुत ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती इसके कारण उसका प्रभाव उनके शरीर पर पड़ता है। मोटापा वैसे तो बहुत सी एक्सरसाइज करके, घरेलू उपाय करके भी कम किया जा सकता है। परंतु फिर भी आज के समय के अनुसार लोगों के पास समय बहुत ही कम है जिसके कारण वह एक्सरसाइज, घरेलू उपाय इत्यादि नहीं कर पाते। इसी कारणवश हम आपको एक ऐसे ही आयुर्वेदिक दवा के बारे में बताने जा रहे हैं क्योंकि आपको मोटापा घटाने के आपकी बहुत सहायता करेगा।इस आयुर्वेदिक औषधि का नाम है दिव्य मेदोहर वटी(Divya medohar vati) आपका मोटापा कम करने में बहुत ही अत्यधिक लाभकारी दवा है और यह बहुत ही स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को भी सुधारने में हमारी मदद करता है।

यह एक ऐसी हर्बल औषधि है जो कि बहुत ही लाभकारी द्रव्य से बनी है। जैसे कि छोटी हरड़, शुद्ध गूगल, कुटकी, वायविड़ंग, शुद्ध शिलाजीत, बबूल गोंद, आंवला, बहेड़ा ,हरीतकी इत्यादि। ऐसे ही बहुत द्रवों से मिलकर बनी यह औषधि बहुत ही लाभकारी है। जिसके अनेकों लाभ देखे जाते हैं और लोग इसे लेना पसंद करते हैं।

इस औषधि के बहुत से औषधीय गुण ऐसे हैं जोकि बहुत ही असरदार है जैसे कि यह है वातदोष निवारक इसमें मिला होता है, जोकि वातदोष को खत्म कर देता है। शामक जोकि कफ को समाप्त कर देता है। तथा इसमें शरीर को पतला करने वाले बहुत से विषैले पदार्थ मौजूद है। यह आम पाचक क्रियाविधि के लिए भी लाभकारी होता है। यह दुर्गन्ध नाशक होता है और पाचन शक्ति को बढ़ाता है।

दिव्य मेदोहर वटी(Divya medohar vati) में उपलब्ध त्रिफला एवं गूगुल मुख्य औषधियां होती है जिसमें कि त्रिफला हमारे शरीर में सबसे ज्यादा मोटापा घटाने में हमारी मदद करता है। और बहुत ही ज्यादा असर दायक भी होता है। कहा जाता है, कि इस औषधि में कुछ ऐसे गुण होते हैं जो कि वसा को कम कर देता है और पेट में जितनी भी एक्स्ट्रा चर्बी होती है और जितना भी ज्यादा वजन होता है उसे कम करने में हमें बहुत ही मदद करता है। यह शरीर में जमने वाली वसा को रोकता है एवं बुटकी में भी भूख बढ़ाने के गुण होते हैं। और यह हृदय के लिए एक बहुत ही अच्छा टॉनिक के रूप में साबित हुआ है। यह कृमि नाशक एवं ज्वरनाशक औषधि है इसको लेने से भूख बहुत अच्छे प्रकार से लगती है और आप अपना पूरा भोजन कर पाते हैं।इसमे उपलब्ध त्रिवत औषधि दस्त का कारण हो सकती है। क्योंकि इसकी तासीर जो होती है वह गर्म होती है, एवं हरिता की भी एक ऐसी रसायन औषधि होती है। जिससे पेट के बहुत से लोग कम हो जाते हैं और पेट में होने वाले कीड़े भी मर जाते है।

दिव्य मेदोहर वटी से होने वाले लाभ एवं उपयोग (Benefits and Uses of Divya medohar vati):

  • यह आयुर्वेदिक औषधि आपके वजन को कम करने के लिए एक बहुत ही लाभकारी आयुर्वेदिक औषधि है। यह पेट की चर्बी को घटाने में आपकी सहायता करती है, एवं इस की दिन में एक गोली खाने से आपको किसी प्रकार का लाभ नहीं होता। कम से कम दिन में तीन गोली रोज लेने से इसका प्रभाव आपको जल्द ही दिखेगा।
  • मनोहर वटी आपकी भूख को बढ़ाने में एवं सही समय पर आपको भूख लगने में बहुत ही अत्यधिक मददगार साबित होती है।
  • यह औषधि आपके हारमोंस को संतुलित रखती है।
  • इस औषधि के सेवन से आपके रक्तचाप एवं कोलेस्ट्रॉल को घटाने में अत्यधिक लाभ होता है।
  • यह आपके शरीर में मेटाबॉलिज्म को बढ़नी नहीं देती और उसे सही मात्रा में रखती है।
  • यह आपकी पाचन क्रिया को ठीक कर देती है एवं आपके बड़े हुए फैट को घटा देती है।
  • यह औषधि आपके मांसपेशियों के दर्द, गठिया के दर्द, एवं जोड़ों के दर्द में भी बहुत ही अत्यधिक आराम पहुंचाती है।
  • , यह औषधि आपको डियाबेटिस के बढ़ने में भी बहुत ही अत्यधिक सहायक एवं लाभकारी होती है।

दिव्य मेदोहर वटी के नुकसान एवं सावधानिया( Side Effect and Caution of Divya medohar vati):

दिव्य मेदोहर वटी एक बहुत ही असरदार एवं लाभकारी आयुर्वेदिक औषधि है। जिस कारण इसके बहुत ज्यादा साइड इफेक्ट नहीं देखे जाते और ना ही कुछ सावधानियां इसके लिए ज्यादातर बरती जाती हैं। परंतु फिर भी यदि आप इसका सेवन कर रहे हैं, तो रोज इसका सही प्रकार से सेवन करें। हो सकता है, कि कभी कभी किसी रूप में आपको इसका सेवन करने से लंबे समय में इसका परिणाम दिखे, परंतु अगर आप इसकी शुरुआत करना चाहते हैं तो इसे पहले थोड़ी कम मात्रा में ही लेना चाहिए। अगर आपको लगता है, कि यह आपको किसी प्रकार की हानि नहीं दे रही है तो आप इसकी खुराक को धीरे धीरे बढ़ा सकते हैं इसके साथ ही यह है गर्भवती महिला को या फिर शिशु जो कि 5 वर्ष से कम के होते हैं उन्हें नहीं देनी चाहिए। यानी उन्हें इसका सेवन बिल्कुल भी नहीं करने देना चाहिए।

दिव्य मेदोहर वटी का के कुछ अन्य महत्वपूर्ण तथ्य:

  • दिव्य मेदोहर वाटिका की एक बच्चे को दिन में दो बार एक से दो गाली तक दे सकते हैं।
  • व्यस्क को दिन में दो बार तीन गोलियां दिव्य मेदोहर वटी की दे सकते हैं।
  • यदि कोई वृद्ध इनका सेवन करना चाहता है, तो वह भी बच्चे की तरह दिन में एक से दो गोलियां दिन में दो बार खा सकता है।
  • दिन में एक साथ 9 गोलियों का सेवन नहीं करना चाहिए। बल्कि इसे दिन में तीन बार 3 गोली करके ले सकते हैं।
  • इस औषधि की गोली आप जब भी में तो खाना खाने से आधा घंटा पहले या फिर खाना खाने के 1 घंटे बाद गर्म पानी के साथ लेनी चाहिए।
  • यदि आप इस दवा का सेवन गर्म पानी के साथ करते हैं तो यह और भी ज्यादा असर दायक हो जाती है।
  • यदि आप इसका सेवन करना चाहते हैं, तो इसके लिए अपने डॉक्टर से पहले सलाह ले। वह आपको हर चीज क्लियर कर देगा, किस तरह से आपको वह कितने आपको इसका सेवन करना है।

कुछ और जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 439

One thought on “Divya medohar vati|दिव्य मेदोहर वटी लाभ और उपयोग

  1. एक दम बेकार दवा है.. इसे गैस और कब्ज की समस्या होती hain

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top