Diclofenac Sodium 50mg Tablets in Hindi

Diclofenac Sodium 50mg Tablets in Hindi : डिक्लोफेनाक सोडियम टैबलेट क्या है? इसके लाभ, इस्तेमाल और हानियाँ

डिकलोफ़ेनाक क्या होता है?

Table of Contents HIDE

डिक्लोफेनाक सोडियम (Diclofenac Sodium 50mg Tablets )गोली में, सोडियम के नाम का एलेमेंट होता है। यह तत्व, बदन में होने वाली पीड़ा को कम करने में काम आता है।

इसके साथ-साथ, इसको एक अहम रूप से जोड़ो के दर्द, हड्डियों में दर्द, मसल्ज़ में पीड़ा,दांत का दर्द, माहवारी के दर्द, बुखार, आर्थरैटिस,सिर में दर्द और ऐसे कुछ और रोगों के उपचार में भी  उपयोग किया किया जाता है।

तो चलिए,  अब हम आप को, इस लेख के माध्यम से, बताएँगे  की इस दवाई का उपयोग कैसे करते है और इसका इस्तेमाल करने से क्या-क्या लाभ और हानियाँ होती हैं।

डिक्लोफेनाक सोडियम टैबलेट के लाभ और इस्तेमाल : Profits and Uses of Diclofenac Sodium 50mg Tablets

अब तक तो हम जानते ही हैं, कि इस गोली का इस्तेमाल, शरीर में दर्द को कम करने के लिए किया जाता है। अब हम आपको बताएँगे, कुछ और रोगों के बारे में, जो इस दवा से सम्बंधित होते हैं डिक्लोफेनाक सोडियम गोली के इस्तेमाल से, नीचे दिए हुए रोगों का इलाज  मुमकिन होता है। आइए देखते हैं, उन रोगों के नाम:

  • सिर में दर्द
  • कमर में पीड़ा 
  • जॉंट्स में दर्द
  • मांपेशियों में दर्द
  • माहवारी का दर्द
  • दांत में दर्द।
  • आर्थ्राइटिस 
  • सैटिका 
  • शरीर में पीड़ा 
  • आँखों में सूजन
  • कलाई में पीड़ा।
  • मोंच
  • घुटने में पीड़ा।
  • जोड़ो का अकड़ना
  • दर्द
  • पैर में फ्रेक्चर
  • मधुमक्खी का काटना।

यहाँ ऊपर बताए गई बीमारियों के अलावा, यदि किसी और लक्षण का अनुभव होता है, तो आप को जल्द से जल्द अपने चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

डिक्लोफेनाक सोडियम की गोली कैसे काम करती है : How Diclofenac Sodium Tablet Wok in Hindi

  • डिक्लोफेनाक सोडियम की गोली के इस्तेमाल से, पेन-किलर का काम किया जाता है। यह दवा ‘साइक्लोक्सिजेनेस’ को कम करने का कम करती है। अब होता क्या है कि ‘साइक्लोक्सिजेनेस प्रोस्टाग्लैंडीन’ नाम के कम्पोनेंट को, सिन्थिसायज़ किया जाता है। 
  • प्रोस्टाग्लैंडीन शरीर में होने वाली पीड़ा और सूजन की वजह बनती है। इसी कारण, इस गोली  का उपयोग, सूजन और पीड़ा को घटाने के लिए, किया जाता है।

डिक्लोफेनाक सोडियम टैबलेट के दुष्प्रभाव या हानियाँ : Diclofenac Sodium Tablet Side-Effects in Hindi

डिक्लोफेनाक सोडियम  की गोली (diclofenac sodium tablet) का इस्तेमाल करने से, आप को हानि भी हो सकती है। मगर यह दुष्प्रभाव जो होंगे, वो आपको महसूस नहीं होंगे। अगर ऐसी कोई भी हालत बनेगी, तो आप को जल्द से जल्द, अपने चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए, और उनकी सलाह ज़रूर लेनी चाहिए। इस गोली का उपयोग करने से, नीचे दिए गए दुष्प्रभाव हो सकते है:

  • पेट में पीड़ा 
  • मत्तलि या चक्कर आना।
  • क़ब्ज़ होना 
  • बदन में खारिश या खुजली होना।
  • लिवर को क्षति पहुँचना 
  • उलटी होना 
  • जी का मचलना 
  • घबराहट होना 
  • इस्तेमाल की हुई जगह पर जलन होना।
  • दस्त लगना 
  • त्वचा पर लाल चकते या रेशस पड़ना।
  • गुरदों के लिए ज़हरीले 

अगर आप को ऊपर दिए गये रोगों के अलावा, और किसी रोग का अनुभव हो, तो जल्द से जल्द, अपने चिकित्सक या नजदीकी मेडिकल स्टोर को संपर्क करे और उनकी सलाह ज़रूर लें।

डिक्लोफेनाक सोडियम टैबलेट में उपयोग में आने वाले तत्व -Ingredients of Diclofenac Sodium 50mg Tablets in Hindi

डिक्लोफेनाक सोडियम की गोली में, नीचे वाले तत्वों का मिश्रण किया जाता है:

  • डिक्लोफेनाक (Diclofenac) – 50Mg

डिक्लोफेनाक सोडियम टैबलेट के उपयोग में लाने वाली सतर्कताएँ  : Diclofenac Sodium 50mg Tablets attention in Hindi

जब भी आप इस गोली का इस्तेमाल करें, तो कुछ सावधानियों का ख़याल रखें। डिक्लोफेनाक सोडियम  की गोली का इस्तेमाल करते वक़्त, इन सावधानियों के बारे में ज़रूर सुनें। इस गोली का इस्तेमाल करने से पहले, अपने चिकित्सक को अपनी फ़िलहाल की हालत के बारे में, पक्की  जानकारी दें। 

इस गोली का इस्तेमाल करने से पहले, अपने चिकित्सक की सलाह ज़रूर लें। डिक्लोफेनाक सोडियम की गोली का उपयोग, करते समय नीचे दी गयी सावधानियों का ज़रूर ख़याल रखे।

  • इस टैबलेट का इस्तेमाल करते वक़्त, आखो से एक दुरी पर रखे।
  • अगर आप को गुर्दे, या जिगर का कोई भी रोग हो, तो इस गोली का इस्तेमाल करने से पहले, अपने चिकित्सक से संपर्क करे और सम्पर्क करें।
  • अगर आप को, दिल का कोई रोग हो, तो इस गोली का इस्तेमाल करने से पहले, अपने चिकित्सक की सलाह ज़रूर ले।
  • अगर आप को, पहले से ही ताप हो, तो इस गोली का उपयोग करने में, करने से पहले, अपने  चिकित्सक से संपर्क ज़रूर करे।
  • शराब के साथ, इस गोली का इस्तेमाल करने से पहले, अपने चिकित्सक से सम्पर्क ज़रूर करें।
  • अगर आपको इस गोली में, शामिल सामग्री से कोई भी एलर्जी है तो जल्द से जल्द, अपने चिकित्सक से संपर्क करे और उनकी सलाह ज़रूर लें।
  • शिशु को दूध पिलाते वक़्त, इस गोली का इस्तेमाल करने से परहेज़ करें। ज़्यादा जानकारी के लिए, अपने चिकित्सक की सलाह लें और उन्हें, संपर्क करे।
  • अगर आप को, दिल का कोई रोग है, तो इस गोली का इस्तेमाल ना करें।
  • अगर कोई प्रेगंनंट है, और उस दौरान, इस गोली का इस्तेमाल करने से पहले, अपने चिकित्सक  की सलाह ज़रूर लें।

डिक्लोफेनाक सोडियम टैबलेट का ज़्यादा मात्रा में उपयोग करने पर होने वाले लक्षण  : Diclofenac Sodium Tablet Overdose Symptoms in Hindi

यदि आप इस गोली  का ज़्यादा मात्रा में उपयोग करते हैं, तो इस गोली का लेवल, आप के शरीर में बढ़ सकता है| इस प्रक्रिया से आपको हानि भी  पहुँच सकती है, या इस दवा का असर कम हो सकता है। ऐसी हालत में, चिकित्सक से सलाह लें, और उनका परामर्श ज़रूर सुनें। 

आप के शरीर में, इस गोली के ओवरडोज़ की वजह से, नीचे दिए गयी दिक्कतें हो सकती है।

  • मत्तलि 
  • चक्कर आना।
  • मुँह सूख  जाना 
  • पेट में अम्ल होना
  • गैस होना 
  • उलटी
  • पेट फूलना

अगर आप को ऊपर दिए गए रोगों के अलावा, कोई और लक्षण दिखते हैं, तो जल्द से जल्द अपने चिकित्सक से संपर्क करे।

डिक्लोफिनेक सोडियम  कैप्सूल का इस्तेमाल कैसे करें:

  • इस दवा को, ज़्यादा या कम मात्रा में, या एक लम्बे वक़्त तक के लिए, उपयोग  करने की परामर्श नहीं दी जाती है। गोली को एक ग्लास पानी के संग, खाने की तरह ही लें। ना तो इस गोली को चबाएँ, ना ही तोड़ें, इसे सीधा निगल लें।
  • जब भी आप इस गोली को लें, तो उसके क़रीब दस मिनट तक लेटे नही। यदि इस दवा को खाते ही, आपका पेट या तो ख़राब हो जाए, या फिर ख़राब होने जैसा अनुभव हो, तो इसे भोजन के साथ, या दूध के साथ या ऐंटैसिड के साथ लें।
  • इसका सॉल्यूशन, अस्पताल, चिकित्सक के दफ्तर या क्लिनिक में इंजेक्शन की तरह दिया जाता है।
  • यदि आपको इस दवा के उपयोग को लेकर कोई भी डाउट हो, तो कृपया करके अपने चिकित्सक से ज़रूर सम्पर्क करें।

डिक्लोफिनेक सोडियम को कैसे स्टोर किया जाए?

  • यह बात डिक्लोफिनेक सोडियम की गोली के लिए, बिलकुल सही होगा, यदि आप उसे अपने घर पर, कमरे के तापमान पर ही रखें और सूरज की सीधी रोशनी या नमी से दूर रखें।
  • डिक्लोफिनेक सोडियम की गोली को ख़राब होने से बचने के लिए, आपको एक और चीज़ का ध्यान देना है, कि आप उसे ना तो बाथरूम और ना ही फ़्रीज़र में रखें।
  • डिक्लोफिनेक सोडियम के गोलियों के विभिन्न प्रकार के ब्रांड हो सकते हैं, जिनको स्टोर करने की आवश्यकताएँ  भी अलग हो सकती हैं। 
  • इसी कारण, या बहुत ज़रूरी है, कि आप उसे खरीदने से पहले, पैकेट पर लिखी स्टोर  करने की जानकारियों को, ध्यान से पढ़ लें, या फिर फार्मासिस्ट से, इसकी जानकारी ले लें। 
  • सुरक्षा के लिए, आपको सभी गोलियों को, बच्चों और पालतू पशुओं से दूर रखना चाहिए।
  • आपको डिक्लोफिनेक सोडियम की गोलियों को, ना तो टॉयलेट में  और ना ही किसी नाली में डालना चाहिए। जब तक आपका चिकित्सक ऐसा करने को ना कहे, आप ऐसा ना करें।
  • यह ज़रूरी है, कि आप पूरे प्रकार से, दवाई को खत्म कर दें। यदि वो एक्सपायर हो गयी है, या किसी काम के लायक नहीं रही है, तो इसे सुरक्षित और ठीक प्रकार से समाप्त करने के लिए, एक बार अपने केमिस्ट  एक बार से अवश्य सम्पर्क करें।
  • डिक्लोफिनेक सोडियम को इस्तेमाल करने से पहले, हमें क्या पता होना चाहिए?* 

डिक्लोफिनेक सोडियम का उपयोग करने से पहले की जानकारी 

  • डाइक्लोफेनाक की गोली लेने से पहले, अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट को बताएं, कि  आपको  इससे या  एस्पिरिन या अन्य NSAIDs (जैसे इबुप्रोफेन, नेप्रोक्सन, सेलेकॉक्सिब ); या किसी और वस्तु से एलर्जी है।
  • यदि आपको पहले से ही कोई गम्भीर रोग है, तो इस दवा के इस्तेमाल से पहले, अपने चिकित्सक को ज़रूर बताएँ। आपको इस बात पर और ज़्यादा ख़याल रखना है, कि यदि विशेषकर आपको दमे की बीमारी हो, या ब्लीडिंग हो या क्लाटिंग से जुड़ी दिक्कतें हों,  या दिल से जुड़े रोग, हाई BP या जिगर से जुड़ी बीमारियाँ हों, तो आप अपने चिकित्सक को ज़रूर सूचित करें। आपको नेज़ल पोलिप्स, पेट और आंत से जुड़े दिक्कतें भी हों, तब भी आप अपने चिकित्सक को अवश्य सूचित करें।
  • इस दवा की वजह से, सूर्य के प्रति आपकी सेन्सिटिविटी या संवेदनशीलता और बढ़ सकती है। इसी वजह से, सूरज की रोशनी में, बाहर कम से कम निकलें।
  • यदि आप कोई और गोली ले रहे हैं, इसमें किसी भी प्रकार की गोली मौजूद है जैसे- हर्बल और कॉम्प्लिमेंटरी दवाइयां, तो अपने चिकित्सक को सूचित करें।

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 435

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top