Copper-T In Hindi

Copper-T In Hindi : कॉपर-टी क्या है? इसके फायदे,नुकसान और सम्पूर्ण जानकारी

अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए आज महिलाओ के पास बहुत सारे तरीके है उनमें से कुछ हे कंडोम, Unwanted 72, I Pill, Copper-T और कुछ दवाइयां। इनमे अगर हम बात करे कॉपर टी की तो वह सबसे प्रचलित गर्भ निरोधक होता है इसके अतयधिक प्रभाव के कारण यह महिलाओ की पहली पसंद होता है और अगर इसका यूज़ देखा जाए तो यह सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है -Copper-T In Hindi

लेकिन फिर भी महिलाओं के मन में कॉपर टी को लेकर कई तरह की संदेह रहते है उनमे से कुछ संदेह हे जैसे इसके नुकसान क्या हो सकते है, क्या यह दवाई पूरी तरह से सेफ होती है, अगर हम इसका इस्तेमाल करेंगे तो इसके कुछ ज्यादा नुकसान तो नहीं होंगे. इन्ही सब बातो को ध्यान में रखते हुए आज हम इस पोस्ट में आपको कॉपर टी के बारे में विस्तार से बताएगे।

कॉपर-टी क्या है?  : What is Copper-T

महिलाए अनचाहे गर्भ धारण न कर पाए उससे उनको मुक्ति दिलाने वाली दवाई का नाम हे कॉपर टी। कॉपर टी एक बहुत छोटा सा उपकरण होता है जो की कॉपर(ताम्बा) और प्लास्टिक से मिलकर बना होता है इस उपकरण को महिलाओ के गर्भाशय में लगा दिया जाता है जिसकी सहायता से महिलाएं गर्भ धारण नहीं कर पाती है मतलब की वह गर्भवती नहीं हो पाती है.

कॉपर इंट्रायूटरिन डिवाइस (आईयूडी) एक छोटे शेप्ड टी-आकार का ’प्लास्टिक और तांबे का उपकरण है। कॉपर IUD लगातार तांबे की एक छोटी मात्रा को गर्भाशय (गर्भ) में छोड़ता है। तांबे के आईयूडी का उपयोग आपातकालीन गर्भनिरोधक गोली के बजाय आपातकालीन गर्भनिरोधक के लिए भी किया जा सकता है।

कॉपर टी लगवाने की सलाह उन महिलाओं को दी जाती है जो की एक माँ बन चुकी होती है. जब भी महिलाओं को ऐसा लगता है की उन्हें गर्भ धारण करने की आवश्यकता है या वे गर्भवती होना चाह रही है तब वे कॉपर उपकरण को गर्भाशय से बाहर निकलवा सकती है. इसे हमे डॉक्टर की सहयता से ही लगवाना और निकलवाना चाहिए क्योंकि इसे लगाना बहुत मुश्किल होता है.

कॉपर टी का इस्तेमाल कैसे किया जाता है? : How To Use Copper-T in hindi

एक प्रशिक्षित डॉक्टर या नर्स द्वारा गर्भाशय (गर्भ) के अंदर कॉपर टी को लगाया जाता है।इसके साथ एक महीन कॉपर का तार लगा होता है कॉपर टी का आकर एक प्लास्टिक के स्ट्रा की तरह होता है कॉपर टी एक शिरे पर कॉपर के टी आकार का शेप होता है. यह महिलओं के योनी से होते हुए गर्भाशय में पहुंचाकर वहां पर छोड़ दी जाती है. कॉपर टी गर्भाशय में पहुंचकर अपने आप आकार के अनुसार फिट हो जाती है  इस तार को नहीं देखा जा सकता है और यह योनि से बाहर नहीं लटकती है।और अपना काम करना शुरू कर देती है.सही तरीके से कॉपर टी को लगाने के बाद यह सालों तक प्रभावी रूप से काम करती रहती है. इसे लगाने के लिए किसी डॉक्टर की जरूरत होती है.

कॉपर टी को बाहर निकालने का तरीका  : How To Remove Copper-T in hindi

डॉक्टर की सहायता से आप कॉपर टी को आसानी से निकलवा सकती है. कॉपर टी के निचले छोर पर एक धागा पाया जाता है| जिसको डॉक्टर बाहर की और खींचते है जीससे कॉपर टी आसानी से बाहर निकल सकती है..कॉपर टी को जिस महीने बाहर निकला जाता है उसी महीने के अंदर ही ,आपका शरीर 30% गर्भधारण करने के लायक हो जाता है.

कई बार कॉपर टी निकालते समय कुछ महिलाओं को दर्द भी हो सकता है और इस वजह से उनको ब्लीडिंग भी हो जाती है. लेकिन इसमें घबराने की कोई आवश्यकता नहीं होती है यह बिलकुल आम बात होती है. हर कॉपर टी को लगाने का एक समय होता है और अगर वह समय पूरा हो चूका है तो आप उसे निकालकर हमे दूसरी कॉपर टी लगवा लेना चाहिए। 

कॉपर टी कैसे काम करती है? : How does Copper-T work?

कॉपर टी में ताम्बा पाया जाता है जो की म्यूक्स को गाढ़ा कर देता है इसके अलावा कॉपर स्पर्म को नष्ट करने का भी काम करता है और स्पर्म की गतिशीलता को भी कम कर देता है. जिससे की जो स्पर्म होते है वह गर्भाशय तक नहीं पहुचं पाते है| महिलाएं गर्भवती नहीं हो पाती है.जब इसे पहली बार लगाया जाता है यह तभी से गर्भावस्था को रोकने के लिए सीधे काम करना शुरू कर देता है।

कॉपर टी के फायदे / लाभ  : Benefits Of Copper-T in hindi 

तनाव से मुक्ति देता है  :- महिलाओ को अनचाहे गर्भ को लेकर तनाव हो जाता है कॉपर टी को लगवाने के बाद महिलाओं को किसी भी तरह का तनाव लेने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। 

आसानी से इस्तेमाल की जाती है :– कॉपर टी को डॉक्टर की सहयता से आसानी से लगवाया और हटाया जा सकता है कॉपर टी को लगवाने के बाद अगर कोई भी महिला गर्भवती होना चाह रही है तो वह इसे आसानी से हटा सकती है. और इसके हटने के बाद महिलाओ का शरीर वापस से गर्भधारण करने लायक हो बन जाता है.

लंबे समय तक प्रयोग कर सकते है  :– कॉपर टी का बहुत ही बड़ा फायदा होता है वह यह है की इसे आप लम्बी अवधि तक आराम से इस्तेमाल कर सकते है. कॉपर टी को आप 5 सालों तक उपयोग करने के लिए बनाया जाता है.

यह सस्ता होता है  :– यह लम्बे समय तक काम करता रहता है इस कारण यह अन्य गर्भ निरोधक दवाइयों और तरीको की तुलना में बहुत सस्ता होता है.

परिवार नियोजन के काम आता है  :– कॉपर टी के उपयोग करने से परिवार नियोजन में सहायता मिलती है. इसका इस्तेमाल करने से बच्चों के बीच में अंतर रखा जा सकता है.

जल्दी लाभ पहुँचता है :– कॉपर टी का प्रभाव बहुत जल्दी हो जाता है और यह उपयोग में बहुत ही कारगार और अधिक प्रभावशाली होती है.

इससे हार्मोंस प्रभावित नहीं होते है :– कॉपर टी एक लम्बे समय तक उपयोग किया जाने वाला गर्भनिरोधक होता है यह हार्मोंस को प्रभावित नहीं करता है.

त्वचा पर प्रभाव नहीं डालते है  :– मार्किट में ऐसे बहुत सारे गर्भनिरोधक पाए जाते है जिनका उपयोग करने से त्वचा पर बुरा असर पड़ता है लेकिन कॉपर टी का इस्तेमाल करने से त्वचा और फर्टिलिटी पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता है. कॉपर टी के उपयोग करने से मुहांसे, वजन बढ़ना और सेक्स संबधी कोई भी समस्या का आपको सामना नहीं करना पड़ता है। 

कॉपर टी के बारे में क्या अच्छा है? : What is good about the copper -T?

  • यह बेहद प्रभावी है
  • एक बार डालने (डालने) के बाद आप इसे 5-10 साल तक भूल सकते हैं
  • यह 10 साल तक चल सकता है
  • स्तनपान करते समय इसका उपयोग किया जा सकता है
  • कोई भी दवा इसे काम करने से नहीं रोकती है
  • यह उन लोगों के लिए एक विकल्प है जो हार्मोनल गर्भनिरोधक का उपयोग नहीं करना चाहते हैं
  • इसे हटाना आसान है
  • एक बार हटाए जाने के बाद आपकी प्रजनन क्षमता सामान्य हो जाती है

कॉपर टी के नुकसान : Side Effects  Of Copper-T in hindi

कॉपर टी के उपयोग करने से कुछ महिलाओं में एलर्जी की शिकायत होने लगती है. उनकी योनी में दर्द और लाल चकते की समस्या होने लगती है.

कॉपर टी का इस्तेमाल करने के बाद कई महिलाओं को बार-बार ब्लीडिंग होने लगती है. हालाँकि ज्यादातर ऐसी समस्या का सामना शुरूआती दौर में ही करना पड़ता है। 

कई बार ऐसा होता है की कॉपर टी खुद ही अपने आप बाहर आ जाती है . जो महिलाएं पहले कभी गर्भवती नहीं हुयी है या बच्चे को जन्म देने के तुरंत बाद कॉपर टी को लगवाती है यह उनके साथ अक्सर होता है.

कई महिलाओं को कॉपर टी को लगवाने के बाद गर्भाशय में घाव होने की शिकायत होती है.

कॉपर टी का मूल्य : Price Of Copper-T in hindi

कॉपर टी का मूल्य उसकी गुणवता और समय के अनुसार अलग-अलग होता है, लेकिन अगर सामन्य तौर पर देखा जाए तो यह 300 से 500 रूपये तक मिल सकती है. आप इसे मेडिकल स्टोर से खरीद सकते है और अपने डॉक्टर की सहयता से इसको लगवा सकते है। 

कॉपर टी का उपयोग करें या नहीं  : Copper-T Use Or Not

वैसे अगर देखा जाए तो कॉपर टी पूरी तरह से सुरक्षित होती है फिर भी आप इसे उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले। 

कॉपर टी का उपयोग किसे नहीं करना चाहिए? : Who should not use Copper-T?

डॉक्टर का कहना है कॉपर टी का इस्तेमाल उन महिलाओ को नहीं करना चाहिए जिन्हे –

  • क्लैमाइडिया जैसे कुछ एसटीआई हैं, या एक पैल्विक संक्रमण है
  • जो शायद गर्भवती हो। 
  • गर्भाशय ग्रीवा या गर्भाशय कैंसर है
  • बच्चे के जन्म के बाद पैल्विक संक्रमण हुआ है, या पिछले 3 महीनों के भीतर गर्भपात हुआ है
  • कॉपर एलर्जी है
  • स्तन कैंसर हुआ है

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 435

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top