Brain cancer(ब्रेन कैंसर) क्या होता है?ब्रेन कैंसर के कारण ,लक्षण ,बचाव ,घरेलू उपाय और साइंटिफिक उपाय

Brain cancer(ब्रेन कैंसर)?कारण,लक्षण,बचाव,घरेलू उपाय

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो धीरे धीरे समय के साथ  अपना दबदबा बढ़ा रही है और ज्यादा से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले रही है। गलत खानपान ज्यादा पान- नशे करना और कई अन्य विकिरण और रेडिएशन के कारण हम इस भयंकर बीमारी का शिकार होते जा रहे हैं। पुराने समय में इस प्रकार के कैंसर के बारे में लोगों को किसी भी प्रकार की कोई भी जानकारी नहीं थी और इसी वजह से उन्हें बिना किसी बीमारी का पता चले ही अपनी जान से हाथ धो बैठना पड़ेगा। लेकिन आप भारत सरकार द्वारा गांवों में और शहरी लोगों में ज्यादा से ज्यादा इस प्रकार की भयंकर बीमारियों के बारे में लोगों में जागरूकता फैला रहे हैं। इसी के साथ-साथ देशभर में नशा मुक्ति केंद्र भी खोले जा रहे हैं ताकि इस प्रकार की बीमारियां से बचा जा सके।तो आज हम आपको बताएंगे कि आखिर ब्रेन कैंसर(Brain cancer) क्या होता है यह किन कारणों की वजह से होता है और किस प्रकार हम इस खतरनाक बीमारी से अपने आप को बचा सकते हैं।

ब्रेन कैंसर क्या होता है (What is brain cancer )

ब्रेन कैंसर के अंदर हमारे मस्तिष्क की कोशिकाएं जब असामान्य रूप से बढ़ने लगती हैं और अपना आकार पढ़ाते हुए हमारे मस्तिष्क की अन्य कोशिकाओं पर हमला करके उनको नष्ट करने लग जाती हैं। कभी-कभी आपने सुना होगा कि ब्रेन कैंसर के अंदर व्यक्ति के मस्तिष्क में गांठ पाई गई ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कोशिकाएं हमारे मस्तिष्क में एक गुच्छा बना देती हैं और धीरे-धीरे यह गुच्छा बड़ी गंभीर ट्यूमर और गांठ बनने का कारण बनता है।ब्रेन कैंसर बहुत ही खतरनाक होता है और इस कैंसर में व्यक्ति का बचपना बहुत ही मुश्किल होता है ऐसे में आप इस बीमारी को बिल्कुल भी हल्के में ना लें।

ब्रेन कैंसर के कारण (Causes of brain cancer )

ब्रेन कैंसर गलत खानपान और नशीले पदार्थों का सेवन करने से हो सकता है।इसके अलावा ब्रेन कैंसर एक आनुवंशिक बीमारी भी हैं यानी कि यदि आपके माता-पिता में से किसी एक को कैंसर था तो संतान को भी भविष्य में कैंसर होने का खतरा बना रहता है। वर्तमान समय में बढ़ रहे प्रदूषण और सूर्य से आने वाली पराबैंगनी किरणों के कारण भी ब्रेन ट्यूमर और ब्रेन कैंसर जैसे बीमारियां तेजी से फैल रही है।

ब्रेन कैंसर के लक्षण (Symptoms of brain cancer )

अगर आपको यह नीचे दिए गए लक्षण दिखे तो इसको गलती से भी नजरअंदाज ना करें क्योंकि यह ब्रेन ट्यूमर होने का संकेत देते हैं:

  • सुबह उठते ही उल्टी होना और खासतौर पर एक जगह से जब दूसरी जगह पर जाएं तब होना और इसको हल्के में ना लें क्योंकि हो सकता है कि यह ब्रेन ट्यूमर का संकेत हो।
  • आपके सर में लगातार दर्द बना रहना ब्रेन ट्यूमर का सबसे बड़ा संकेत है।अक्सर मरीजों को सुबह सर में बहुत तेज दर्द की शिकायत होती है जिसे कई बार लोग माइग्रेन समझ लेते हैं और इग्नोर कर देते हैं।ऐसे दर्द को अनदेखा नहीं करना चाहिए क्योंकि हो सकता है यह ब्रेन ट्यूमर की वजह से हो रहा हो।
  • अगर सैरिब्रल में ट्यूमर है तो आपको अपनी बॉडी का बैलेंस बनाए रखने में बहुत मुश्किल होगी
  • पराइअटल लोग में ट्यूमर होने पर पीड़ित को रोजमर्रा के काम करने में भी बहुत ज्यादा दिक्कत होती है।
  • ब्रेन टयूमर आफ ब्रेन कैंसर होने पर पीड़ित को मिर्गी की तरह ही दौरे पड़ते हैं और वह बार-बार बेहोश हो जाता है और यह दौरे कहीं पर भी और कभी भी पढ़ सकते हैं।
  • अगर आपके बोलने की क्षमता प्रभावित होने लगे या फिर याददाश्त कम होने लगे या आंखों के नीचे रोशनी कम होने लगे तो यह इसी बात का संकेत है कि हो सकता है कि आपको ब्रेन ट्यूमर हो गया है।
  • चेहरे के कुछ हिस्से में तहत कमजोरी महसूस होना और अचानक से वजन बढ़ जाना ब्रेन ट्यूमर का संकेत हो सकता है।

ब्रेन कैंसर का ऐसे करें बचाव (How to prevent brain cancer )

अब आप जानते होंगे कि आखिर ब्रेन कैंसर किन कारणों से होता है तो चली अब हम आपको बताते हैं इससे किस प्रकार हम अपने आप को बचा सकते हैं:

घरेलू उपाय (Home Remedies)

  • विटामिन सी से जुड़ी चीजों को भरपूर खाएं क्योंकि यह ब्रेन कैंसर के मरीजों के ट्यूमर को बहुत तेजी से खत्म करने में मदद करता है और आपको इससे जल्द ही निजात दिलाता।
  • हालांकि ब्रेन ट्यूमर से पूरी तरह से किस तरह बचा जाए इस बात की सही जानकारी अभी तक नहीं आई है पर फिर भी केमिकल युक्त और मिलावटी खाने से बचने की पूरी कोशिश करें और जंक फूड कम खाएं जिससे कि आप की बॉडी के अंदर इंप्योरिटीज ना जा सके और आपको ज्यादा नुकसान ना पहुंचा पाए।
  • नींद अच्छे से पूरी करें क्योंकि नर्वस सिस्टम के ठीक काम करने के लिए आप को नींद की सख्त जरूरत है और आपकी हेल्थ के लिए भी।
  • अपनी डाइट में विटामिन और बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर चीजों को शामिल करें जैसे कि विटामिन सी विटामिन के और विटामिन ई से भरपूर चीजें जरूर खाएं क्योंकि यह ट्यूमर को कम करता है और ब्रेन कैंसर का असर भी कम कर देता है।
  • बाहरी तेलीय खाद्य पदार्थ और जंक फूड का बिल्कुल भी सेवन ना करें और खूब पानी पिया करें जिससे कैंसर का असर कम हो पाए।

साइंटिफिक उपाय (Scientific Remedies)

  • ब्रेन कैंसर का साइंटिफिक उपाय भी है जैसे कि दुनिया में बहुत से डॉक्टर ऐसे है जिनकी दवाई से बहुत से लोगों के कैंसर का इलाज हो चुका है। बिना किसी सर्जरी के या फिर कोई भी साइंटिफिक थेरेपी से और बहुत ही कम पैसों में इसका इलाज दिया गया है उन मरीजों को जो ब्रेन कैंसर की चपेट में बहुत सालों से थे।
  • बहुत बार ऐसा होता है कि कैंसर हद से ज्यादा बढ़ जाता है और इसका इलाज दवाई से होना कुछ हद तक या फिर बेहद नामुमकिन हो जाता है।  उस समय पर आखिरी उपाय यही बचता है कि उसको सर्जरी करके ठीक किया जाए जैसे सर्जरी करके उस पूरी गांठ को निकाल दिया जाए। मांसपेशियों को सही से वापस जोड़ दिया जाए जिससे कि कोई नुकसान ना पहुंचे पर सर्जरी करवाते वक्त एक बात का बहुत ध्यान रखना चाहिए कि यह आपको खुशी भी दे सकती है और दुखी भी कर सकती है क्योंकि इसका इलाज बेहद मुश्किल होता 
  • ब्रेन कैंसर जैसी तमाम भयानक बीमारी का इलाज समय रहते पता चलने पर बड़ी ही आसानी से हो सकता है।लेकिन यदि आपको अपने ब्रेन कैंसर के बारे में काफी समय बाद पता चला है तो यह आपके लिए बहुत ज्यादा नुकसानदायक हो सकता है ऐसे में आप केवल कीमोथेरेपी के द्वारा ही अपने आप को बचा सकते हैं।

इस प्रकार आपने देखा कि ब्रेन कैंसर वर्तमान समय में किस प्रकार अपनी चपेट में सबको ले रहा है।कैंसर जैसी भयानक बीमारियों के खिलाफ भारत सरकार भी कई नए कदम उठा रही है। गांव-गांव और शहरों में नशा मुक्ति केंद्र भी लगवा रही है। ऐसे में जितने ज्यादा लोग जागरूक होंगे उतना ही इस प्रकार की बीमारी से बचने में सफलता मिलेगी। हमारे द्वारा ऊपर बताए गए लक्षणों में से यदि आप किसी एक लक्षण के भी शिकार है तो आप जल्द से जल्द अपने नजदीकी चिकित्सक से संपर्क करें और समय रहते अपना इलाज करवाएं धन्यवाद।

कुछ और बीमारियों की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 330

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top