bournvita in hindi

Bournvita in hindi:बोर्नविटा के फायदे,नुकसान,पोषक तत्व और उपयोग

आप सबने बोर्नविटा(Bournvita in hindi) का नाम सुन रखा है और कई यो के घर में तो इसे यूज़ भी किया जाता है। बोर्नविटा एक हेल्थ ड्रिंक है जिस की भारत में सबसे ज्यादा बिकाई होती है। बोर्नविटा को कैडबरी एल.टी.डी कम्पनी द्वारा बनाया जाता है। इसका स्वाद बच्चों को अच्छा लगे इसलिए इसमें चोकलेट पाउडर मिलाया जाता है क्योंकि चोकलेट बच्चों को बहुत पसंद होती है।

बोर्नविटा ना सिर्फ स्वाद को अच्छा करता है बल्कि हमारे स्वास्थ्य के लिए भी इसके बहुत से फायदे है। आप सभी अच्छे से जानते है की दूध बच्चों के लिए कितना जरुरी है,क्योंकि दूध में कई सारे पोषक तत्व होते है तो ऐसे में बोर्नविटा दूध की शक्ति को दो गुना कर देता है। आईये जानते है बोर्नविटा के क्या-क्या फायदे है

बॉर्नविटा में क्या क्या मिलाया जाता हैं-(What is mixed in Bournvita in hindi)

  • माल्ट एक्सट्रेक्ट
  • कोकोआ सॉलिड
  • शुगर( चीनी)
  • कैरेमेल(ई-150)
  • मिल्क सॉलिड
  • मिनरल्स
  • विटामिन
  • आर्टिफिशियल प्रिजेवेटिव
  • लिक्विड(तरल) वनीला फ्लेवर 
  • नमक 
  • रेसिंग अंगेन्ट(ई-500)

बोर्नविटा के क्या फायदे है?(What are the benefits of Bournvita in hindi?)

  • बॉडी और हेल्थ को मजबूत करता है: बोर्नविटा के अंदर प्रोटीन और मिनरल्स होते है जो हमारी बॉडी को मजबूत करते है, हेल्थ को स्ट्रोंग बनाते है और मसल्स को मजबूत करते है।बोर्नविटा के नियमित सेवन से हमारे बॉडी की ग्रोथ बढती है औऱ बोर्नविटा को पीने से हम हर समय फुर्तीले रहते है और काम के दौरान आलस नहीं आता,बोर्नविटा शरीर को बाहर और अंदर दोनों तरफ से स्ट्रोंग बनाता है। अगर हमें वायरल जैसी तकलीफ है तो उसमे भी यह हमें लड़ने की ताकत देता है।अगर हम बाहर से कमजोर भी है तो बोर्नविटा के नियमित सेवन से हम अंदर से स्ट्रोंग बने रह सकते है. बोर्नविटा हमें अंदर से इतना मजबूत बनाता है की हम बीमारियों से लड़ने में मदद करता  है।
  • जिम जाने वालों के लिए वरदान है बोर्नविटा: जो लोग बॉडी बनाने के लिए जिम जाते है उनके लिए बोर्नविटा किसी वरदान से कम नहीं है। जिम से वापिस घर आने के बाद दूध में बोर्नविटा मिलाकर पीएं। इससे आपकी मसल्स भी मजबूत होगी और वजन भी बढेगा। बोर्नविटा की सबसे ख़ास बात यह है की इसके रिजल्ट दूसरे प्रोडक्ट की तुलना में काफी असरदार और जल्दी मिलते है।कोम्पलेन जैसी कम्पनियां भी बोर्नविटा जैसा रिजल्ट नहीं दे सकती।
  • दिमाग को विकसित करता है:बोर्नविटा के नियमित सेवन से आपका दिमाग मजबूत और विकसित होता है।आप जो भी पढ़ते है वो आपको लम्बे समय तक याद रहता है। यह आपके सोचने की क्षमता को बढ़ाता है और आपके दिमाग को शार्प बनाने में मदद करता है। बोर्नविटा के अंदर इतने सारे विटामिन, प्रोटीन और मिनरल्स है की आप इसका सेवन अगर रोज करेंगे तो आपके सोचने की शक्ति बढ़ेगी और दिमाग पहले से ज्यादा विकसित होगा।
  • आँखों की रौशनी तेज करता है:आपको यह थोड़ा अजीब लगा होगा की बोर्नविटा का आँखों से क्या संबध है। बोर्नविटा के अंदर ऐसे कुछ प्रोटीन और जरुरी तत्व है जो हमारे आँखों की रौशनी को बढाने के लिए जरुरी होते है। इसलिए बोर्नविटा के नियमित सेवन से आँखों की रौशनी भी तेज होती है।
  • हड्डियों को मजबूत करता है:बोर्नविटा में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो की हड्डियों की मजबूती के लिए बहुत जरुरी होता है। इसके अलावा भी इसमें कई तरह के विटामिन और मिनरल्स है जो हड्डियों को मजबूत करने में मदद करते है।

बोर्नविटा के क्या साइड इफ़ेक्ट है?(What are the side effects of Bournvita in hindi?)

  • वैसे तो बोर्नविटा के बहुत से फायदे है लेकिन इसके कुछ साइड इफ़ेक्ट भी है जिसके बारे में आपका जानना बहुत जरुरी है। बोर्नविटा हमारे शरीर को अंदर और बाहर दोनों और से मजबूत करता है लेकिन बोर्नविटा के अंदर शक्कर बहुत होती है जिससे हमारा शरीर धीरे-धीरे कमजोर होने लगता है।
  • आप एक ग्लास  पानी में बोर्नविटा को 15-20 सेकंड तक मिलाएं।फिर ध्यान से ग्लास के नीचे देखो तो आपको अलग ही शक्कर की परत देखने को मिलेगी। इससे आपको पता लग जाएगा की बोर्नविटा में कितनी शक्कर का इस्तेमाल किया जाता है।
  • इसके अलावा ज्यादा शक्कर का इस्तेमाल करने की वजह से यह ओरल बैक्टीरिया को जन्म दे सकता है जिससे दांतों से जुडी प्रॉब्लम हो सकती है।बोर्नविटा को पीने से आपको तुरंत तो एनर्जी मिल जाएगी लेकिन शुगर का अत्यधिक इस्तेमाल होने की वजह से बाद में आपको थकान महसूस होने लगेगी.
  • इस तरह की ड्रिंक्स पीने से आपको तुरंत एनर्जी मिलती है क्योंकि इनमें शुगर की मात्रा अधिक होती है लेकिन बाद में आप थकान महसूस करते हैं।
  •  इस तरह की ड्रिंक्स और सप्लीमेंट की लाइफ बढ़ाने के लिए इनमें प्रिज़र्वटिव मिला होता है। आर्टिफीशियल कलर भी स्वास्थ्य के लिए सही नहीं होते हैं।
  • इस तरह की ड्रिंक्स में पोषण नहीं होते हैं, जिस वजह से ये डायबिटीज, हाई ट्राइग्लिसराइड, हाई बी.पी लेवल मोटापे और मेटाबोलिक सिंड्रोम से पीड़ितों के लिए बेहतर विकल्प नहीं है।
  • इन सब के अलावा स्वस्थ लोगों को भी कई बीमारियों से बचने के लिए माल्ट ड्रिंक्स और सप्लीमेंट्स का कम सेवन करना चाहिए।
  • चीनी का अत्यधिक सेवन ओरल बैक्टीरिया को जन्म दे सकता है जिससे दांतों से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं।
  • अध्ययनों से पता चलता है कि प्रिज़र्वटिव और कलर वाले फूड्स खाने से बच्चों के व्यवहार पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है।
  • इन सब के अलावा स्वस्थ लोगों को भी कई बीमारियों से बचने के लिए माल्ट ड्रिंक्स और सप्लीमेंट्स का कम सेवन करना चाहिए।

बोर्नविटा को उपयोग करने के कुछ तरीके:-(Some ways to use Bournvita)

एक कप गर्म दूध और उसमे बोर्नविटा मिला दें, फिर बोर्नविटा को अच्छे से मिला लें,उसके बाद इसे पी लें ध्यान रहे गर्म दूध में बोर्नविटा मिलाकर पीने से अंदर से भी मजबूती मिलती है। भूलकर भी ठंडे दूध में बोर्नविटा मिलाकर ना पीएं इससे आपकी हड्डियों पर बुरा इफ़ेक्ट पड़ेगा।शुद्ध दूध में बोर्नविटा मिलाकर पीयें इससे अच्छे रिजल्ट मिलेंगे।

इस बात का रखें ध्यान

भारतीय पहले से ही (चीनी सहित) कार्बोहाइड्रेट की एक उच्च मात्रा ले रहे हैं। इसलिए उन्हें माल्ट ड्रिंक्स और सप्लीमेंट्स से मिलने वाली अतिरिक्त शुगर की ज़रुरत नहीं है। स्वास्थ्य के मद्देनजर आप शुगर को रिफाइंड शुगर से बदल सकते हैं। यानि आप ड्राई फ्रूट्स और फल खा सकते हैं।

कुछ और जानकारियॉ जो आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए बहुत ही फायदेमंद है |

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 330

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top