Betamin GM Cream in Hindi

Betamin GM Cream in Hindi : बेटामिल जीएम क्रीम की जानकारी इसके फायदे, उपयोग और नुकसान

बेटामिल जीएम क्रीम का निर्माण:

  • निर्माता: मर्क लिमिटेड (Merck Ltd)।
  • चिकित्सीय संरचना: बेटामेथासोन,. जेंटमिसिन,मिकोंनाजोल।
  • कैसे उपलब्ध: चिकित्सक द्वारा परामर्श ज़रूरत नहीं है।

बेटामिल जीएम क्रीम की जानकारी:

  • यह दवा एक स्टेरॉड की शैली में उपलब्ध होता है। अगर हम विस्तार में जाएँ तो यह एक ‘ग्लूकोकॉर्टिकोइड वर्ग’ की औषधि होती है।
  • यह कई और आर्थ्राइटिस दिक्कतें जैसे की SLE (सिस्टेमैटिक ल्यूपस ऐरेथमेटस), जो कि एक ऐसी ऑटो-प्रतिरक्षक बीमारी होती है, जिसमें शरीर का इम्यून सिस्टम ग़लती से सेहतमंद टिशू पर हमला करने लगता है।
  • इसमें छालरोग भी होता है, जिसे हम सराययसिस के नाम से जानते हैं। इसमें त्वचा की कोशिकाएँ आम विकास से दस गुना ज़्यादा तेज़ बढ़ते हैं और परिणाम-स्वरूप लाल फफोले निकल आते हैं।
  • इसमें अंजीयोडीमा नामक एक और त्वचा रोग होने की सम्भावना होती है, जिसमें त्वचा के अंदर सूजन आजाती है।
  • इस बीमारी में अस्थमा या दमे के भी लक्षण दिखते हैं। इसमें ख़ून में कुछ दिक्कतें, कुछ आँख और स्किन की परिस्थितियाँ भी उत्पन्न हो जाती हैं।
  • बेटामेथासोन से कुछ और रोगों का इलाज भी होता है, जैसे की मल्टिपल स्क्लरोसिस (मस्तिष्क की एक ऐसी बीमारी जिससे इंसान अपंग भी हो सकता है), क्रोहन रोग (एक ऐसा रोग जिसमें पाचन प्रणाली पर असर दिखता है, जो कि काफ़ी दर्दनाक हो सकता है।) और ल्यूकेमिया (यानी की ब्लड कैन्सर) भी हो सकता है।
  • इसे या तो मौखिक रूप से या फिर इंजेक्शन के रूप में लिया जा सकता है। इन फ़ॉर्म्ज़ में इसको शरीर में लागू किया जा सकता है। क्योंकि यह एक कॉर्टिकोस्टेरॉइड होता है, तो उसी के नाते, यह सूजन पर काम करता है और अलग-अलग तरीक़ों से शरीर में इम्यूनिटी रीऐक्शंज़ को सुधारता है।
  • अगर आपको कोई भी प्रकार की ऐलर्जी है, या कोई भी फ़ंगल संक्रमण है या एक ऐसा इन्फ़ेक्शन है जिसका इलाज नहीं हो पाया है, तो आपको इस दवा को नहीं लेना चाहिए।

बेटामिल जीएम क्रीम में उपयोग होने वाली सामग्री : Ingredients of Betamin GM Cream in Hindi

बेटामिल जीएम क्रीम में निम्नलिखित सामग्री का उपयोग किया जाता है:Betamin GM Cream in Hindi

  • बेटामेथसोने (Betamethasone) 0.05%
  • जेंटमीसिन (Gentamicin) 0.1%
  • मिकोनाज़ोल (Miconazole) 2%

बेटामिल जीएम क्रीम कैसे काम करता है : How Betamin GM Cream Work in Hindi

  • यह दवा एक ऐंटाई-फ़ंगल और ऐंटाई- बैक्टीरीयल मलहम होती है। यह उन रासायनिक मेसेंजर को रोककर, उसपर हमला करती है, जो कि ऐलर्जी को फैलती है। इसके इस्तेमाल से त्वचा के इन्फ़ेक्शन या संक्रमण से बचा जा सकता है।
  • बाज़ार में यह क्रीम बड़ी आसानी से मिल जाती है। किसी भी मेडिकल स्टोर पर यह मिल जाता है। सबसे ज़रूरी बात है की इसकी क़ीमत भी बहुत कम होती है। पर एक  बात का ध्यान ज़रूर देना चाहिए की इसका उपयोग करने से पहले, अपने चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लेंन।

बेटामिल जीएम क्रीम के फ़ायदे और उपयोग: Betamil GM Cream benefits and uses

इस क्रीम का इस्तेमाल नीचे दी गयी बीमारियों के उपचार के लिए किया जाता है:

इस सूची में दी गयी बीमारियों के साथ ही, अगर आप किसी और बीमारी को महसूस करते हैं, तो आप अपने चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लें।

बेटामिल जीएम क्रीम के दुष्प्रभाव / नुकसान : Betamin GM Cream Side Effect in Hindi

अगर आप इस क्रीम का इस्तेमाल करो तो आपको इसके दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। पर इस बात का ध्यान रहे की अगर आपको ऐसा कोई भी बिन्दु उत्पन्न हो, तो अपने चिकित्सक का परामर्श ज़रूर लें। उन दुष्प्रभावों में से कुछ की सूची यह रही:

  • स्किन में खुजली होना
  • जलन होना
  • त्वचा पर लाल रेशेस होना
  • खारिश  होना।
  • मोतियाबिंद
  • पेट में सूजन
  •  क़ब्ज़ होना
  • मुँह सुखना
  • मुंहासे होना
  • खासी
  • आयरन की कमी या एनेमिया होना
  • वर्टिगो होना, मतलब ऊँचाई से डर लगना
  • मसल्ज़ में कमजोरी होना।
बेटामेथासोन के परस्पर प्रभाव:

यह दवा को जब कुछ दवाओं के साथ इस्तेमाल किया जाता है, तो इसका परस्पर प्रभाव दिखता है। ऐसा हो तो आप अपने चिकित्सक को ज़रूर सूचित कर सकते हैं।

यह रही वो दवाइयाँ:

  • एल्लोडिफाइन
  •  मिफेप्रिस्टोन
  • वार्फरिन
  •  एथिनिल
  •  एस्ट्राडिल
  •  इंसुलिन
  •  सीप्रोफ्लॉक्सासिन
  • BGC वैक्सीन
  • सिप्रोफ्लोक्सासिन (Ciprofloxacin)
  • अल्कोहल (Alcohol)
  • लेफ्लोनॉमिडे (Leflunomide)
  • अम्लोडिपिंन (Amlodipine)
  • रिफाम्पिसिन (Rifampicin)
  1. यदि आप TB, या इलेक्ट्रोलाइटिक के असंतुलन, या गस्त्रोईंटेसटैनल छेदों से, या मायोकार्डिअल इन्फेक्शन, या हर्पीज़ के संक्रमण से, या सकलेरोडेरमा या थ्रेड वोर्म के, या किसी और संक्रमण से पीड़ित हैं, तो अपने चिकित्सक को ज़रूर सूचित करें।
  2. गर्भावस्था या स्तनपातन के समय इस दवा को इस्तेमाल नहीं करने की सलाह दी जाती है।
  3. जब तक की पूरी ज़रूरत ना हो, तब तक इस दवा का उपयोग ना करें।

बेटामिल जीएम क्रीम का अधिक मात्रा में इस्तेमाल होने पर होने वाले लक्षण : Betamin GM Cream Overdose Symptoms in Hindi

इस दवा को यदि दी गयी मात्रा से ज़्यादा का इस्तेमाल हो, तो आपको यह देखने को या महसूस होने को मिल सकता है:

  • स्किन में फोड़े या फुंसिया होना।
  • स्किन में इन्फ़ेक्शन।
  • स्किन में जलन या खारिश होना
  • खारिश होना
  • स्किन पर लाल रेशस
  • बैक्टेरियल संक्रमण

बेटामिल जीएम क्रीम के इस्तेमाल में सावधानियां : Betamin GM Cream Precaution in Hindi

  • बेटामिल जीएम क्रीम के उपयोग में नीचे दी सावधानियों का इस्तेमाल किया जाता है:
  • अगर आपको बुखार है, या किसी और प्रकार की बीमारी है, तो आप इस क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले, आप अपने चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लें।
  • अगर आप हाइपर-सेन्सिटिव हैं,तो आपको अपने चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लें।
  • इस क्रीम का आवश्यकता से ज़्यादा मात्रा में उपयोग ना करें और अधिक जानकारी के लिए अपने चिकित्सक से ज़रूर सम्पर्क करें।
  • शरीर के जिस हिस्से में चोट लगी है, उसे अच्छे से धो लें और सूखा भी लें। यह सब होने के बाद ही, इस क्रीम का सही उपयोग करें।
  • इस क्रीम को जब भी यूज़  करें, तो आप ध्यान दें की आप इसका इस्तेमाल अपनी आँख,

कान, नाक आदि हिस्सों पर इस्तेमाल ना करें। अगर आप कभी ऐसा करने के परिस्थिति में फँस जाएँ, तो अपने चिकित्सक से ज़रूर परामर्श लें।

  • अगर आपको इसकी इंग्रीडीयंट सामग्री से कोई भी ऐलर्जी है, तो आप इसका इस्तेमाल करने से पहले इसके इस्तेमाल से ठीक पहले, अपने डॉक्टर की परामर्श ज़रूर लें।
  • गर्भावस्था के समय, इसका इस्तेमाल करने से पहले, आप अपने चिकित्सक से परामर्श ज़रूर लें।
  • यदि कोई महिला अपने शिशु को दूध पिला रही हैं, तो वो इसको लेने से पहले अपने चिकित्सक के परामर्श ज़रूर लें।

कुछ और महत्वपूर्ण क्रीम की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 330

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top