Beplex forte tablet in hindi

Beplex forte tablet in hindi : बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट क्या है? जानिए इसके फायदे, उपयोग और नुकसान

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट की जानकारी: Beplex Forte Tablet information in hindi

Table of Contents HIDE

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट (beplex forte tablet in hindi) कुछ और नहीं, बस एक ऐसी गोली होती है, जिसमें विभिन्न प्रकार के विटामिन होते हैं। इसे सही मायनो में, एक मल्टी-विटामिन टैबलेट भी कहा जाता है। यह इंसान के शरीर को ताक़त और शक्ति प्रदान करने में एक अहम भूमिका निभाता है।

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट की प्रमुख सामग्री: Key Ingredients of Beplex Forte Tablet in hindi

इस गोली में बी-कॉम्प्लेक्स के साथ, सारे बी वायटमिंज़ मिलते हैं। अगर विस्तार से बात करें, तो इसमें यह निम्न प्रमुख सामग्रियाँ होती हैं। यह रही प्रमुख सामग्रियों की सूची:

  • निकोटोनिक एसिड
  • नियासिनमाइड
  • पायरेडोक्सिन
  • कैल्शियम पेंटोफेनेट
  • फोलिक एसिड
  • विटामिन बी 12
  • विटामिन सी

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट की संरचना: Composition of Beplex Forte Tablet in hindi

अब प्रमुख सामग्री जानने के बाद, हम बात करते हैं इस दवा की संरचना की। इसकी प्रमुख सामग्री, सही स्ट्रेंठ के साथ नीचे दी गयी है:

  • विटामिन बी-9 (फोलिक एसिड) 1.5 मि.ग्रा.
  • विटामिन बी-12 (सियानोकोबलामिन) – 15 ऍमसीजी
  • विटामिन बी-3 (नियासिनमाइड) 75 मि.ग्रा.
  • कैल्शियम पैंटोथेनेट 50 मि.ग्रा.
  • विटामिन बी-6 (पायरीडॉक्सिन) 3 मि.ग्रा.
  • विटामिन-सी (एस्कॉर्बिक एसिड) 150 मि.ग्रा.
  • विटामिन बी-2 (राइबोफ्लेविन) 10 मि.ग्रा.
  • विटामिन बी-1 (थायमिन) 10 मि.ग्रा.
  • विटामिन बी-7 (बायोटिन) 260 एमसीजी,
  • निकोटिनिक एसिड 25 मि.ग्रा.
  • एलिमेंटल मैग्नीशियम 32.4 मि.ग्रा.

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट की और जानकरियाँ: More about Beplex Forte Tablet in hindi

निर्मित (company) – एंग्लो-फ्रेंच ड्रग्स एंड इंडस्ट्रीज लि.।
प्रिस्क्रिप्शन – जरूरी नहीं (ओटीसी के रूप में मिलता है)
किस फ़ॉर्म में बाज़ार में उपलब्ध हैं? – गोलियाँ, सिरप और इंजेक्शन।
क़ीमत – 29.22 रुपये में 20 टैबलेट
एक्सपायरी – निर्माण की तारीख से 24 महीने तक
दवा का प्रकार – मल्टीविटामिन और मल्टी-मिनरल

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट का उपयोग: Use of Beplex Forte Tablet in hindi

इस दवा का अहम इस्तेमाल होता है, जब विटामिन की कमी होती है। तो चलिए, आज इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे, कि इस तबलेट का उपयोग कब और कैसे होता है। साथ ही, हम आपको यह भी बताएँगे इ की इस दवा के क्या-क्या फ़ायदे और दुष्प्रभाव होते हैं। इन सब के अलावा हम आपको बताएँगे इसके बारे में कुछ आवश्यक सूचना।

इस दवा के यह निम्न अहम उपयोग होते हैं:बीप्लेक्स टैबलेट का उपयोग निम्नलिखित बीमारियों के लक्षण में इस्तेमाल किया जाता है।

  • बालो का झड़ना
  • विटामिन की कमी
  • विटामिन बी 12 की कमी में
  • घाव में
  • गर्भवस्था की समस्याओं में
  • सिरदर्द में
  • मांसपेशियों में दर्द
  • जोड़ो में दर्द
  • खून की कमी में
  • कमर दर्द
  • नेत्र विकार में।
  • हृदय से सबंधित बीमारिया।
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल
  • सफ़ेद बाल
  • गंजापन में

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट के फ़ायदे: Benefits of Beplex Forte Tablet in hindi

  • यदि आपको जल्दी-जल्दी ऐलर्जी या सर्दी-ज़ख़ाम हो जाता है, तो यह दवा आपके लिए बहुत बढ़िया है।
  • यह दवा आपकी इम्यूनिटी के लिया बहुत बढ़िया है।
  • अगर आपको मुँह के छाले या माउथ अल्सर होता है, तो इस दवा के लेने से, वो आपको बिलकुल नहीं होगा।
  • अगर आपके बालों में कोई भी समस्या हो रही है, भले ही बाल झड़ रहे हो, या बालों का रंग बदल रहा हो, तो वो समस्या अब आपको बिलकुल नहीं होगी।
  • यह त्वचा की क्वालिटी को भी बढ़ाता है। आपके चेहरे पर भी झुर्रियाँ नहीं बनेंगी। यह गोली RBC’s के उत्पाद को ना सिर्फ़ ये आपके चेहरे पर, बल्कि आपके पूरे शरीर में, बढ़ाती है। 
  • आपको, इस दवा के कारण, बहुत थकान नहीं महसूस होगी। B-१२ और B-६, यह दोनो हैं इस दवा के प्रमुख विटामिन। यदि आप बहुत जल्दी थक जाते हैं, तो इन दोनो विटामिन की कमी आप में हो सकती है।

उपयोग: जब भी आप इसको इस्तेमाल करें, तो आपको दिन में सिर्फ़ एक टैबलेट, वह भो नाश्ते के बाद लेनी होगी।

इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं माना जाता है। क्यूँकि B-कॉम्प्लेक्स दवा जो है, वो पानी में घुल जाती हैं, तो यह भी एक अहम कारण होता है, इसके कोई साइड-इफ़ेक्ट ना होने का। 

तो यदि आप ओवर-डोज़ भी कर लेते हैं, तो पानी के ज़रिए, यह आपके शरीर से बाहर निकल जाता है। जो भी ‘फ़ैट-सॉल्युबल विटामिन’ होते हैं, वह शरीर में रह जाते हैं, पर जो ‘वॉटर-सॉल्युबल’ होते हैं, उनका बाहर निकलना तय होता है।

जितनी भी B-कॉम्प्लेक्स के सप्लेमेंट्स होते हैं, वो बहुत ज़्यादा महँगे नहीं होते हैं, तो इसीलिए, आप B-पलेक्ष को आराम से ले सकते हैं।

सस्ता होने के साथ-साथ, यह काफ़ी असरदर भी होती हैं।

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट के दुष्प्रभाव या नुकसान – Beplex Forte Tablet Side Effect in Hindi

इस दवा को खाने से नीचे दिए यह सारी समस्याएँ या बीमारियाँ आने का डर रहता है। यह रही वो समस्याएँ:

  • मत्तलि और चक्कर आना
  • जी का मचलना 
  • दस्त
  • उलटी
  • मुँह का सूख जाना 
  • सिर दर्द करना।
  • डिप्रेशन
  • ऐंठन
  • दिखने में धुंधलापन आना 
  • मसल्ज़ में दर्द होना 
  • कमजोरी या जल्दी थक जाना 
  • ज़्यादा पसीना आना

अगर आप ऐसे किसी भी साइड-इफ़ेक्ट को महसूस करें, तो आप तुरंत ही अपने चिकित्सक को सूचित करें।

बीपलेक्स फोर्टे का इस्तेमाल ऐसे करना चाहिए: This is how Beplex Forte should be used

  • इस दवा को लेने से पहले, सबसे पहले, अपने चिकित्सक को बताएँ, की आप कौन-कौन से दवाइयाँ इस्तेमाल करते हैं, और आपको इससे पहले कौन-कौनसी बीमारियाँ रही हैं। काफ़ी दवाइयाँ, यदि इस दवाई के साथ ली जाएँ, तो ऐलर्जी या और सेहत सम्बंधी दिक्कातों की वजह बन सकती है। और कुछ स्वास्थ्य की स्थितियों में, इस दवा को लेने से साइड-इफ़ेक्ट भी दिख सकते हैं।
  • इस दवा को प्रतिदिन चिकित्सक की सलाह के अनुसार, मुँह के माध्यम से ही लें।  दवा के पैकेट पर दी गयी जानकारी को भी पढ़ें और उसपर ध्यान ज़रूर दें।
  • जितनी डोज़ बतायी गयी हो, उससे ज़्यादा  डोज़ कभी ना लें। अगर आप इस बारे में और जानकारी चाहते हैं, तो अपने चिकित्सक से सम्पर्क में आएँ।
  • अगर आप यह दवा प्रतिदिन लें, तो आप इस दवा के पूरे लाभ उठा सकते हैं।

बीप्लेक्स फोर्टे टैबलेट कैसे काम करती है – How Work in Hindi

  • यह दवा ख़ून में कोलेस्ट्रोल और ट्राइग्लिसरायड की मात्रा को कम करने का काम करता है।
  • यह कम डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन के आयोजन को, कम कर कार्बोहाइड्रेट के मटैबलिज़म को बढ़ाता है। यह शरीर में होने वाले रक्त की कमी को ठीक करता है।
  • यह गोली, फ़्री पर्टिकल्स की वजह से होने वाली क्षति को रोकती है और चोटों को ठीक करने के काम आता है। यह मसल्ज़ को भी ताक़त दिलवाती है।

बीपलेक्स फोर्टे को स्टोर ऐसे किया जाए: How to store a Beplex forte

  • बीपलेक्स फोर्टे को सदा कमरे के तापमान पर ही स्टोर किया जाना चाहिए। इसको धूप के सीधी रोधनी या नामी से दूर ही रखना चाहिए। इसे क्षति से बचने के लिए, कभी भी इसे फ्रिज में ना रखें।
  • भंडारण या स्टॉरिज से जुड़ी जानकारी को जानने के लिए, इस दवा के पैकेट के पीछे प्रिंट की गयी जानकारी को पढ़ें। यदि आप और जानकारी चाहते हैं, तो कृपया कर अपने चिकित्सक से बात ज़रूर करें।
  • यदि दवा ऐक्सप्यर हो जाएँ, या अपने उसका इस्तेमाल बंद कर दिया है, तो चिकित्सक के निर्देश के बग़ैर ना तो उसे फ़्लश करें, ना ही उसे नाली में डालें। 
  • इस दवा को सही तरीक़े से नष्ट करने के बारे में अपने फ़ार्मसिस्ट से जानकारी लें।

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 395

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top