Apch ke ghrelu upchar

Apch ke ghrelu upchar : अपच के घरेलू उपचार

पेट की ख़राबी या अपच आजकल बहुत आम है! हर कोई एक न एक दिन इससे पीड़ित होता है। इसके अलावा, एक ख़राब पेट से ज्यादा असहज कुछ भी नहीं है। शारीरिक परिक्षम में कमी के कारण पेट की परेशानी बढ़ गई है। कोविड -19 महामारी ने हमारी शारीरिक गतिविधि सहित हमारे जीवन को अचानक विराम दिया है। काम की नई संस्कृति ने हमारी दिनचर्या को किसी तरह बिगाड़ दिया। यह उन समस्याओ में से एक होती है हम में से अधिकांश लोग पेट की समस्या का दैनिक जीवन में सामना कर रहे हैं। -Apch ke ghrelu upchar

चिकित्सा की दृष्टि से, पेट की गड़बड़ी को अपच भी कहा जाता है जो आपके ऊपरी पेट में असुविधा का वर्णन करता है। एक ख़राब पेट एक विकार नहीं है बल्कि पाचन विकार के लक्षणों का एक गुच्छा है जो आपको असहज बनाता है। यह एक अन्य पाचन तंत्र की बीमारी का लक्षण भी हो सकता है।

अपच के कारण : Symptoms of upset stomach (Apch ke ghrelu upchar)

  • ओवरईटिंग या फास्ट फूड
  • पेट में दर्द
  • शराब की खपत
  • फास्ट फूड, मसालेदार भोजन खाना
  • धूम्रपान
  • दवा से प्रेरित अपच जैसे एंटीबायोटिक्स, दर्द निवारक दवाएं आदि।
  • पैथोलॉजिकल कारण – पेप्टिक अल्सर, गैस्ट्रिटिस, हाइपरसिटी, आदि।
  • चिंता
  • पेट खराब होने के लक्षण
  • भोजन के दौरान और बाद में पेट की परिपूर्णता
  • ऊपरी पेट और जलन 
  • पेट में सूजन महसूस होना
  • जी मिचलाना और उल्टी

पेट खराब होने का इलाज : Treatment for upset stomach 

अंतर्निहित कारण के अनुसार विभिन्न प्रकार के उपचार हैं। मसालेदार भोजन से या अल्कोहल के उपयोग को समाप्त करके जीवन शैली में बदलाव से अपच को कम करने में मदद मिल सकती है। यदि अपच बनी रहती है, तो डॉक्टर आपको कुछ दवाएं लिख सकते हैं। 

अपच के घरेलू उपाय : Home remedies for upset stomach (Apch ke ghrelu upchar)

1: पीने का पानी :  Drinking water 

पानी हर समस्या का अंतिम समाधान है। यह कहा जाता है कि पेट की ख़राबी के लिए शरीर को आवश्यक पोषक तत्वों को अवशोषित करने के लिए पानी की आवश्यकता होती है और आपके शरीर से विषाक्त पदार्थ को खत्म करने में मदद करता है। निर्जलित होने के कारण उल्टी और दस्त के कारण पेट खराब हो सकता है। आपके पेट में एसिड की बढ़ती मात्रा से पेट में जलन हो सकती है।खूब पानी पीने से आपके पाचन तंत्र से एसिड खत्म हो सकता है जो आपको एक सुखद प्रभाव देता है।

2: नींबू पानी : Lemon water

अपच में नींबू पानी एक उत्कृष्ट विकल्प है। जब भी हम पेट की परेशानी महसूस करते हैं तो हम हमेशा नींबू पानी का विकल्प चुनते हैं। नींबू का क्षारीय प्रभाव पेट में अतिरिक्त अम्लता को सुखाने में मदद करता है।

3: बेकिंग सोडा और नींबू पानी : Baking soda and lemon drink

यह अपच के लिए एक आसान और सबसे अच्छा विकल्प है। आप एक चुटकी बेकिंग सोडा के साथ पानी में नींबू का रस मिला सकते हैं जो पाचन संबंधी शिकायतों को दूर करने में मदद कर सकता है। यह पेय पेट में कार्बोनिक एसिड का उत्पादन करता है, जिससे अपच और गैस की कमी होती है। नींबू में पाया जाने वाला एसिड आपके पेट में एसिड के स्राव को कम करता है।

4: पुदीना : Mint 

पुदीने की पत्तियों में मेंथोल होता है जो आपके पेट को शांत करने और अपच की समस्याओं को कम करने में मदद करता है। यह आंतों में मांसपेशियों की ऐंठन को कम करने और दर्द से राहत देने में भी मदद करता है। मिंट एशियाई देशों में अपच के लिए एक पारंपरिक उपचार है।पुदीने की पत्तियों का सेवन कच्चा या पका के किया जा सकता है। वे इलायची के साथ उबाल कर चाय बना सकते हैं या अन्य पेय पदार्थों के साथ मिला सकते हैं।

5: अदरक : Ginger 

सर्दी, खांसी, मतली, उल्टी और दर्द के लिए अदरक का उपयोग प्राचीन काल से किया जाता है। इसमें जिंजरॉल और शोगोल नामक रसायन होते हैं। ये रसायन पेट में दर्द को कम करने के लिए पेट के संकुचन को गति देने में मदद कर सकते हैं।

यदि आप मजबूत अदरक की गंध को संभाल सकते हैं तो आप खाने के लिए ताजा अदरक की जड़ को छील और काट सकते हैं। इसके अलावा, आप उन्हें पेय या भोजन में जोड़ सकते हैं।

6: दालचीनी : Cinnamon 

दालचीनी की छड़ें विभिन्न एंटीऑक्सिडेंट जैसे कि कपूर, दालचीनी, लिनालूल और यूजेनॉल से समृद्ध होती हैं। यह आपके पेट को भोजन को आसानी से पचाने में मदद करता है। यह पेट की सूजन, मतली और परिपूर्णता जैसे लक्षणों का इलाज करने में मदद करता है।परेशान पेट वाले लोग राहत पाने के लिए अपने भोजन में 1 चम्मच दालचीनी पाउडर या एक छोटी छड़ दालचीनी की जोड़ सकते हैं।

7: जीरा : Cumin

अगर आपको पेट में समस्या हो रही हे तो जीरा सबसे अच्छा समाधान में से एक है जब आप तुरंत परिणाम चाहते हैं। यह अतिवृद्धि, पेट के गैसीय विचलन और दर्द को कम करने में हमारी सहायता करता है।

एक चम्मच जीरा, कुछ सूखा नारियल, और दो लहसुन की कली लें। इन्हें मिलाएं और एक ही बार में सेवन करें। यह पेट में असहज महसूस को तुरंत कम करने में मदद करेगा।

8: केला : Banana 

केले में विभिन्न विटामिन, फोलेट और पोटेशियम होते हैं। यह आपके पेट में एसिड को कम करने में मदद कर सकता है और आपको हाइपरसिडिटी से राहत देता है। केले ढीले मल को थोक जोड़कर भी मदद कर सकते हैं, जिससे दस्त को कम किया जा सकता है।

हालांकि हम घर पर परेशान पेट के विभिन्न लक्षणों का प्रबंधन कर सकते हैं। अंतर्निहित कारणों और तीव्रता की जांच करना भी आवश्यक है। ये कारक परिभाषित करेंगे कि आपको घरेलू उपचार की आवश्यकता है या डॉक्टर से परामर्श करें। हल्के लक्षणों के लिए, अपने आहार में ताजे फलों और सब्जियों को शामिल करना और शराब का सेवन कम करना लगभग निश्चित रूप से आपको स्वास्थ्य की राह पर ले जाएगा।

डिस्क्लेमर : इस साइट में शामिल जानकारी केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है और इसका उद्देश्य डॉक्टर द्वारा चिकित्सा उपचार का विकल्प नहीं है। हर व्यक्ति की विशिष्ट व्यक्तिगत आवश्यकताओं के कारण, पाठक को पाठक की स्थिति की जानकारी की उपयुक्तता निर्धारित करने के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए।

कुछ और मेडिसिन की जानकारिया आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए जो आपकी लाइफ को आसान बनाएगी

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 395

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top