Turmeric and Honey

Turmeric and Honey advantages and disadvantages in Hindi

 हल्दी एक महत्वपूर्ण औषधि है। हल्दी और शहद(turmeric and honey) दोनों का उपयोग पुराने समय से औषधि के रूप में किया जाता रहा है।और सेहत से जुड़े इसके कई फायदे भी हैं। हल्दी और शहद को मिलाकर खाने से कई फायदे होते हैं । यह शारीरिक दुर्बलता को दूर करता है और यह स्वास संबंधित रोगों को दूर करने में भी मदद करता है यह एक अच्छे एंटीबायोटिक का भी काम करता है । यह शरीर की चर्बी को कम कर शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है ।और यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। विवाह समारोह जैसे शुभ कार्यों में हल्दी का इस्तेमाल ज़रुर किया जाता है। शरीर पर चोट लगने पर उसे ठीक करने के लिए हल्दी का उपयोग किया जाता है । शरीर की  सूजन को दूर करने और त्वचा की सुंदरता को बढ़ाने में भी हल्दी और शहद(turmeric and honey) का उपयोग किया जाता है ।

 

हल्दी और शहद के फायदे – Benefits of turmeric and honey

 

1. त्वचा की सुंदरता में – Skin beauty

त्वचा के दाग धब्बे को दूर करने, कील मुहासे को दूर करने, चेहरे की झुर्रियां दूर करने ,में हल्दी और शहद का उपयोग किया जाता है यह त्वचा की सुंदरता को भी बढ़ाता है यह त्वचा के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद होता है ।हल्दी और शहद का सेवन करने से त्वचा का निखार बढ़ता है ।यह त्वचा से संबंधित रोगों को दूर करने में भी मदद करता है ।

2. घाव को भरने में – Wound healing

शरीर के घावों को भरने के लिए भी हल्दी और शहद का उपयोग किया जाता है ।यह शरीर के घावों को जल्दी भरने और इंफेकशन को रोकने में मदद करता है ।यह शरीर में आयी खरोचों और घावों के निशान को भी ठीक करने में मदद करता है ।

3. शरीर की सूजन को ठीक करने में – To cure inflammation of the body

हल्दी और शहद का उपयोग शरीर की सूजन को ठीक करने में भी किया जाता है । यह शरीर के सूजन को ठीक कर शरीर के दर्द को भी ठीक  करता है। यह हमारे शरीर के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद होता है ।यह शरीर की जकड़न और जोड़ों के दर्द को काम करने में भी मदद करता है ।

4. सर्दी जुकाम को ठीक करने में – To cure a cold

सर्दी के मौसम में सर्दी जुकाम की समस्या बड जाती है । हल्दी और शहद का सेवन करने से सर्दी जुकाम में राहत मिलती है ।  और यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है । यह मुँह से आ रही बदबू को ठीक करने में भी मदद करता है। हल्दी और शहद  सर्दी जुकाम से होने वाली हर समस्या को ठीक करने में मदद करता है ।जैसे सिर दर्द ,शारीरिक थकान ,हाथ पैर का दर्द आदि समस्या में भी यह बहुत ही फ़ायदेमंद होता है ।

5. गले की खरास को ठीक करने में – To cure sore throat

गले की खरास आप को किसी भी मौसम में हो सकती है यह सर्दी जुकाम होने के शुरुआती लक्षण में से एक है ।गले की खरास को ठीक करने के लिए हल्दी और शहद का सेवन किया जाता है । यह गले के इंफेक्शन को ठीक कर, गले की खरास को भी ठीक करता है ।

6. पाचन क्रिया को ठीक करने में – To help digestion

पेट फूलना एसिडिटी बनना या भोजन का ठीक से नहीं पचना आदि समस्याओं में हल्दी और  शहद का उपयोग किया जाता है । हल्दी और शहद के सेवन से अल्सर की बीमारी भी ठीक होती है ।यह पेट को स्वस्थ रखने और भोजन को ठीक से पचने में मदद करता है ।

7. जोड़ों के दर्द को ठीक करने में – To cure joint pain

जोड़ों के दर्द और शारीरिक सूजन ,शरीर में हो रही जलन को ठीक करने में हल्दी और शहद का उपयोग किया जाता है हल्दी और शहद का सेवन करने से शरीर की जकड़न और जोड़ों के दर्द और शारीरिक दर्द से राहत मिलती है ।यह शरीर के दर्द को दूर करने में बहुत ही उपयोगी होता है ।

8. हृदय रोगों को ठीक करने में – In curing heart diseases

शरीर में यदि कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बड़ जाती है | तो हृदय संबंधित समस्या होने का खतरा बड़ जाता है । यदि हल्दी और शहद का सेवन किया जाये तो यह शरीर के कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखता है ।और हृदय संबंधित रोगों को दूर करने में मदद करता है ।

9. मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में – Keep the brain healthy

हल्दी और शहद मस्तिष्क को स्वस्थ रखने और मस्तिष्क से  जुडी समस्याओं को ठीक करने में मदद करता है यह तनाव को कम करने में मदद करता है ।यह हमारे मानसिक विकास को बढ़ाता है ।

10. स्वांस संबंधित समस्या में – Problem related to breathing

यदि आप को स्वांस संबंधित कोई समस्या है तो आप हल्दी और शहद का उपयोग कर सकते है यह स्वांस संबंधित समस्या को ठीक करने में मदद करता है ।यह स्वांस के इंफेक्शन को दूर करने में भी मदद करता है ।

11. रक्त चाप में – In blood pressure

यदि आप को रक्त चाप कम होने की समस्या है तो आप हल्दी और शहद का सेवन कर सकते है । यह रक्त चाप को नियंत्रित करने में भी मदद करता है । लेकिन इसका अधिक सेवन ना करे | 

12. कैंसर से बचाव में – Cancer prevention

हल्दी और शहद शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है । प्रोस्टेड कैंसर को रोकने में हल्दी का उपयोग किया जाता है ।  कैंसर से बचाव में हल्दी का उपयोग किया जाता है ।कैंसर होने पर बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन ना करे ।

 

हल्दी और शहद के नुकसान – Loss of turmeric and honey

1. हल्दी और शहद की तासीर गर्म होती है इसलिए इसका अधिक सेवन ना करे नहीं तो पेट की गर्मी बड़ सकती है। जिससे आप को उलटी या दस्त की समस्या हो सकती है ।

2. पीलिया होने पर हल्दी और शहद का सेवन नहीं करना चाहिए ।

3. गर्भवती महिलाये बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन ना करे।

4. हल्दी के अधिक सेवन से शरीर में आयरन की कमी हो सकती है ।

5. इसके अधिक सेवन से एनीमिया का खतरा बड़ जाता है ।

 

कुछ और जानकारियाँ आपकी दैनिक दिनचर्या के लिए

मेरा नाम रूचि सिंह चौहान है ‌‌‌मुझे लिखना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है । मैं लिखने के लिए बहुत पागल हूं ।और लिखती ही रहती हूं । क्योकि मुझे लिखने के अलावा कुछ भी अच्छा नहीं लगता है में बिना किसी बोरियत को महसूस करे लिखते रहती हूँ । मैं 10+ साल से लिखने की फिल्ड मे हूं ।‌‌‌आप मुझसे निम्न ई-मेल पर संपर्क कर सकते हैं। vedupchar01@gmail.com
Posts created 330

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top